तिहाड़ जेल जाकर बहन के बलात्कारी को उतारा मौत के घाट

0 75

तिहाड़ जेल में एक ऐसा चौकाने वाला मामला सामने आया है जिसको सुनकर सभी के होश उड़ गए. यहां एक शख्स ने अपनी बहन के बलात्कारी
को जेल के अंदर जाकर मौत के घाट उतार दिया. हालांकि आरोप तिहाड़ जेल बंद था. कत्ल की ये खौफनाक साजिश किसी फिल्मी इटाइल से कम नहीं है.

ये भी पढ़ें..गश्त पर निकले दो पुलिसकर्मियों की गोली मार कर हत्या

दरअसल, साल 2014 में दिल्ली के आंबेडकर नगर इलाके में रहने वाले जाकिर की नाबालिग बहन के साथ मेहताब नाम के शख्स ने रेप किया था. जिसके बाद उस मासूम ने खुदकुशी कर ली थी. जाकिर हर हाल में अपनी बहन के रेप का बदला लेना चाहता था, लेकिन आरोपी रेप के मुकदमे में तिहाड़ जेल जा चुका था और जाकिर की पहुंच से बाहर से कोसो दूर था.

लेकिन जाकिर ने साल 2014 में मेहताब के कत्ल की जो स्क्रिप्ट लिखनी शुरू की उसका क्लाइमेक्स 7 साल बाद तिहाड़ जेल में पूरा हुआ. जाकिर ने मेहताब का जेल में ही मौत के घाट उतार दिया.

बादला लेने के लिए खुद भी गया था जेल…
Related News
1 of 1,105

इसी कड़ी में जाकिर साल 2018 में कत्ल के आरोप में तिहाड़ जेल गया लेकिन मेहताब तिहाड़ की दूसरी जेल में बंद था. लिहाजा, मेहताब तक पहुंचने के लिए जाकिर ने एक प्लान तैयार किया. वो अपने साथियों के साथ बिना वजह झगड़ा करने लगा. रोज-रोज के झगड़े तो देखते हुए तिहाड़ प्रशासन ने कुछ दिन पहले जाकिर को जेल नंबर 8 यानी उसकी जगह शिफ्ट कर दिया जहां मेहताब बंद था.

अस्पताल में हुई मौत…

वहीं 29 जून की सुबह जाकिर ने जेल में लोहे की छड़ को पैना कर बनाये गए चाकू से मेहताब पर हमला कर उसे बुरी तरह घायल कर दिया, जिसके बाद डीडीयू अस्पताल में मेहताब ने दम तोड़ दिया. फिलहाल, पुलिस ने जाकिर के खिलाफ कत्ल का मुकदमा दर्ज कर लिया है.

ये भी पढ़ें..अब TikTok स्टार शिवानी की हत्या , इस हालत में मिली लाश

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments
Loading...
नई खबर पढ़ने के लिए अपना ईमेल रजिस्टर करे !
आप कभी भी इस सेवा को बंद कर सकते है |

 

 

शहर  चुने 

Lucknow
अन्य शहर