ऐसे नेताओं पर चलेगा चुनाव आयोग का हंटर

0 19

न्यूज डेस्क — निर्वाचन  आयोग अब दागी नेताओं, विधायकों और सांसदों के चुनाव लड़ने पर आजीवन प्रतिबंध लगाना चाहता है. आयोग का कहना है कि खराब छवि वाले लोगों को राजनीति में आने से रोकने के लिए दागी सांसदों, विधायकों और नेताओं के चुनाव लड़ने पर रोक लगनी चाहिए.यह लोकतंत्र की गरिमा के लिए ये जरूरी है.

Related News
1 of 1,041

 

दरअसल बुधवार को चुनाव आयोग ने सुप्रीम कोर्ट में ये बात कही.आयोग ने कहा कि वह इस बारे में कानून संशोधित करने के लिए सरकार को भी पत्र लिख चुका है.वहीं  सुप्रीम कोर्ट ने चुनाव आयोग से इस बात का सबूत मांगा है कि इस बारे में सरकार को चिट्ठी लिखी गई है या नहीं.गौरतलब है कि मंगलवार को सुप्रीम कोर्ट ने चुनाव आयोग से दागी नेताओं के नाम और उनपर दर्ज आपराधिक मामलों की जानकारी मांगी थी. कोर्ट ये जानना चाहती थी कि दागी नेताओं पर कार्रवाई को लेकर पिछले साल दिए गए फैसले का अनुपालन किया गया या नहीं.

बता दें कि सुप्रीम कोर्ट के जस्टिस रंजन गोगोई और जस्टिस नवीन सिन्हा की बेंच इस मामले में दायर की गई याचिका पर सुनवाई कर रही है. उनके मुताबिक, दागी नेताओं के नाम के साथ कोर्ट ये भी जानना चाहती है कि राजनीति में ऐसे कितने प्रतिशत नेता हैं, जिनकी छवि खराब है.बेंच ने इस जानकारी के जरिए जानना चाहा कि दागी नेताओं के खिलाफ मुकदमे की सुनवाई एक साल के अंदर पूरी होती है, तो क्या यह एक निर्णायक कदम होगा?

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments
Loading...