रामलला की प्राण-प्रतिष्ठा कराने वाल मुख्य पुरोहित का निधन, PM मोदी व सीएम योगी ने जताया शोक

150

लखनऊः अयोध्या में राम मंदिर की प्राण प्रतिष्ठा कराने वाले मुख्य आचार्य लक्ष्मीकांत दीक्षित (Pandit Laxmikant Dixit) के निधन पर प्रधानमंत्री मोदी (PM  Modi), यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ, राजस्थान के सीएम भजन लाल शर्मा, मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री मोहन यादव समेत कई नेताओं ने शोक व्यक्त किया है।

आचार्य लक्ष्मीकांत दीक्षित के निधन पर प्रधानमंत्री मोदी ने ट्विटर पर लिखा, ‘देश के प्रख्यात विद्वान एवं सांगवेद विद्यालय के यजुर्वेद के आचार्य लक्ष्मीकांत दीक्षित जी के निधन का दुःखद समाचार प्राप्त हुआ। दीक्षित जी काशी की विद्वत्ता परंपरा के एक प्रतिष्ठित व्यक्ति थे। काशी विश्वनाथ धाम एवं राम मंदिर के उद्घाटन अवसर पर मुझे उनका सानिध्य प्राप्त हुआ। उनका निधन समाज के लिए अपूरणीय क्षति है।’

सीएम योगी ने जताया दुख

सीएम योगी ने सोशल मीडिया अकाउंट ‘X’ पर लिखा कि काशी के प्रकांड विद्वान और श्री राम जन्मभूमि प्राण प्रतिष्ठा के मुख्य पुजारी वेदमूर्ति आचार्य लक्ष्मीकांत दीक्षित जी का जाना आध्यात्मिक और साहित्यिक जगत के लिए अपूरणीय क्षति है। संस्कृत भाषा और भारतीय संस्कृति की सेवा के लिए उन्हें सदैव याद किया जाएगा। प्रभु श्री राम से प्रार्थना है कि दिवंगत आत्मा को अपने श्री चरणों में स्थान दें और उनके शिष्यों और अनुयायियों को यह दुख सहन करने की शक्ति प्रदान करें। ओम शांति!

Related News
1 of 823

गौरतलब है कि आचार्य लक्ष्मीकांत दीक्षित 500 वर्षों के बाद अयोध्या में मर्यादा पुरुषोत्तम श्री राम की मूर्ति की प्राण प्रतिष्ठा के मुख्य पुजारी थे। वे कुछ दिनों से अस्वस्थ थे।

ये भी पढ़ेंः- UP Weather: यूपी में झुलसाती गर्मी से मिलेगी राहत ! तीन दिन बाद सुहावना होगा मौसम

ये भी पढ़ें: IPL 2024: दिल्ली कैपिटल्स को तगड़ा झटका, ऋषभ पंत पर लगा इतने मैचों का प्रतिबंध, जानें वजह

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं…)

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments
Loading...