बेहद दिलचस्प है मुलायम-साधना की प्रेम कहानी, कई सालों तक इस शख्स ने छिपाकर रखा था राज

0 114

समाजवादी पार्टी के संस्थापक व पूर्व मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव की दूसरी पत्नी साधना गुप्ता का शनिवार को लंबी बीमारी के चलते गुरुग्राम के मेदांता अस्पताल में निधन हो गया। देश के बड़े सियासी परिवारों में से एक मुलायम सिंह यादव का सैफई परिवार साधना से रिश्ते को लेकर कई बार सुर्खियों में रहा है। इस परिवार में मुलायम सिंह की दूसरी पत्नी के रूप में साधना गुप्ता की एंट्री की कहानी भी बेहद दिलचस्प है। मुलायम सिंह यादव की पहली पत्नी मालती देवी थीं। मालती देवी से अखिलेश यादव का जन्म हुआ। मालती देवी का निधन वर्ष 2003 में हो गया।

ये भी पढ़ें..प्रदर्शनकारियों ने पुलिस बेरिकेड तोड़ राष्ट्रपति भवन में हुए दाखिल, आवास छोड़कर भागे राष्ट्रपति राजपक्षे

मुलायम ने पहली पत्नी के निधन के बाद ही साधना गुप्ता से शादी की बात स्वीकारी थी। साधना गुप्ता के बेटे का नाम प्रतीक यादव है। वह अखिलेश यादव के सौतेले भाई हैं। प्रतीक की पत्नी अपर्णा यादव हैं। हालांकि अपर्णा यादव सैफई परिवार से बगावत कर उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के दौरान सपा छोड़कर भारतीय जनता पार्टी में शामिल हो गयीं हैं। बावजूद इसके वह अपने ससुर मुलायम सिंह यादव से अच्छे रिश्ते की बात करती हैं। भाजपा में नयी पारी शुरू करने के बाद भी मुलायम का पैर छूकर अपर्णा ने आशीर्वाद लिया था।

यूं करीब आए मुलायम साधना

अखिलेश यादव की बायोग्राफी ‘बदलाव की लहर’ में मुलायम सिंह यादव और साधना गुप्ता के रिश्ते का भी जिक्र है। किताब के मुताबिक मुलायम की मां मूर्ती देवी अक्सर बीमार रहती थीं। तब साधना गुप्ता ने मूर्ति देवी की देखरेख करती थीं। वहीं एक बार मूर्ति देवी की नर्स गलत इंजेक्शन लगाने जा रही थी। तब साधना गुप्ता ने उसे ऐसा करने से रोक लिया था। इस तरह मूर्ति देवी की जान बच गयी थी। जब इस बात की जानकारी मुलायम सिंह यादव को हुई तो वह साधना से बेहद प्रभावित हुए। इस तरह मुलायम और साधना के रिश्ते की शुरूआत हुई।

मुलायम सिंह की पत्नी के रूप सामने आई पहचान

Related News
1 of 2,141

सैफई का यादव परिवार देश के बड़े-बड़े सियासी घरानों में से एक है। मुलायम के परिवार का लगभग हर सदस्य सक्रिय राजनीति में है। मुलायम सिंह यादव की पहली पत्नी मालती देवी का वर्ष 2003 में लंबी बीमारी के चलते निधन हो गया। बताया जा रहा है कि पहली पत्नी के होते हुए ही मुलायम सिंह यादव ने साधना से गुपचुप शादी की थी लेकिन उन्हें सार्वजनिक रूप से पत्नी के रूप से दर्जा नहीं दिया था। मझे हुए राजनीतिज्ञ मुलायम ने सियासी परिवार पर आंच न आने पाए, इसलिए मौके की नजाकत को देखते हुए साधना को पत्नी के रूप में स्वीकार कर लिया।

साधना की परिवार में एंट्री अखिलेश को नहीं लगी अच्छी

वैसे तो साधना गुप्ता एक छोटी महिला कार्यकर्ता के रूप में काम करने के लिए समाजवादी पार्टी में शामिल हुईं थीं। वह पहले से ही शादीशुदा थीं। साधना के पहले पति व्यापारी थे। बाद में कुछ व्यक्तिगत कारणों से साधना अपने पति से अलग हो गयीं। यह सब घटनाक्रम करीब 1980 का है। पहली पत्नी के निधन के बाद जब मुलायम-साधना के रिश्ते की दास्तां सबके सामने आई तो यह बात अखिलेश यादव को अच्छी नहीं लगी। इस परिवार में मुलायम-साधना और अखिलेश के बीच की खींचतान की खबरें समय-समय पर बाहर आती रही हैं।

ये भी पढ़ें..सुपरस्टार पवन सिंह पत्नी ज्योति से तलाक के लिए पहुंचे कोर्ट, इस एक्ट्रेस से जल्द रचाएंगे तीसरी शादी

ये भी पढ़ें..अमिताभ, शाहरुख़ के साथ इन दिग्गज अभिनेताओं पर दर्ज हुआ एफआईआर, जानें क्या है मामला

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं…)

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments
Loading...
नई खबर पढ़ने के लिए अपना ईमेल रजिस्टर करे !
आप कभी भी इस सेवा को बंद कर सकते है |
busty ebony ts pounding studs asshole.anal sex

 

 

शहर  चुने 

Lucknow
अन्य शहर