Lok Sabha Elections 2024: BJP का खुला जीत का खाता, इस सीट पर निर्विरोध चुने गए मुकेश दलाल

178

Lok Sabha Election 2024: लोकसभा चुनाव के बीच भाजपा के लिए अच्छी खबर सामने आई है। लोकसभा चुनाव 2024 के नतीजे भले ही 4 जून को घोषित हो, लेकिन उससे पहले ही बीजेपी ने अपना खाता खोल दिया है। दरअसल गुजरात की सूरत लोकसभा सीट पर चले लंबे ड्रामे के बाद भाजपा उम्मीदवार मुकेश दलाल (Mukesh Dalal) ने निर्विरोध जीत हासिल कर ली है।

7 मई को होना था मतदान

रविवार को कांग्रेस प्रत्याशी का नामांकन रद्द होने के बाद बाकी 8 उम्मीदवारों ने भी अपना नाम वापस ले लिया है, जिसके बाद बीजेपी की निर्विरोध जीत पक्की हो गई है। हालांकि उम्मीद की जा रही थी बसपा प्रत्याशी प्यारेलाल भारतीय अपना नामांकन वापस नहीं लेंगे लेकिन आज उन्होंने भी मुकेश दलाल के सामने सरेंडर कर दिया है। इस सीट पर तीसरे चरण में 7 मई को मतदान होना था। इसके साथ ही लोकसभा चुनाव में बीजेपी का खाता भी खुल गया है।

बता दें कि सूरत लोकसभा सीट से कांग्रेस उम्मीदवार नीलेश कुंभानी अपने तीन प्रस्तावकों में से एक को भी चुनाव पेश नहीं कर सके, जिसके बाद चुनाव अधिकारी ने नीलेश कुंभानी का नामांकन रद्द कर दिया। इससे पहले भारतीय जनका पार्टी ने कांग्रेस उम्मीदवार नीलेश कुंभानी के फॉर्म में उनके तीन प्रस्तावकों के हस्ताक्षर को लेकर सवाल उठाए थे।

निषाद पार्टी के अध्यक्ष संजय निषाद पर जानलेवा हमला, बुरी तरह से हुए घायल

कांग्रेस का बड़ा आरोप

Related News
1 of 591

उधर कांग्रेस ने नामांकन रद्द होने के बाद केंद्र की मोदी सरकार पर गंभीर आरोप लगाया है। कांग्रेस ने कहा कि सरकार की धमकी के आगे सभी डरे हुए हैं। कांग्रेस नेता और वकील बाबू मंगुकिया ने कहा कि हमारे तीन प्रस्तावकों का अपहरण कर लिया गया है, चुनाव अधिकारी को अपहरण की जांच करनी चाहिए न कि फॉर्म पर हस्ताक्षर किए गए हैं या नहीं। उन्होंने कहा कि बिना हस्ताक्षर तार किये फॉर्म रद्द करना गलत है, प्रस्तावकों के हस्ताक्षर सही हैं या गलत, इसकी जांच किये बिना फॉर्म रद्द करना गलत है।

कौन हैं Mukesh Dalal?

दरअसल निर्विरोध जीतने वाले मुकेश दलाल (Mukesh Dalal) मोढ़ व्यापारी समुदाय से आते हैं और बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष सीआर पाटिल के करीबी माने जाते हैं। मुकेश दलाल गुजरात के सूरत बीजेपी के महासचिव हैं। हाल ही में वह एसडीसीए समिति के सदस्य भी हैं। इसके अलावा मुकेश सूरत नगर निगम (एसएमसी) के पूर्व स्थायी समिति अध्यक्ष भी रह चुके हैं। मुकेश दलाल लंबे समय तक प्रदेश स्तर पर काम कर चुके हैं। इसके अलावा दलाल का सूरत में अच्छा प्रभाव है, वे वहां तीन बार पार्षद और पांच बार वहां की स्थायी समिति के अध्यक्ष रह चुके हैं।

ये भी पढ़ें..कमल बनकर अब्बास ने युवती को फंसाया, फिर रेप कर बनाया धर्मांतरण का दबाव, विरोध पर श्रद्धा की तरह टूकड़े करने की दी धमकी

ये भी पढ़ें.नम्रता मल्ला की हॉट क्लिप ने बढ़ाया सोशल मीडिया का पारा, बेली डांस कर लूट ली महफिल

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं…)

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments
Loading...