ड्यूटी से लौट रही महिला का ऑटो में अपहरण कर 3 घंटे तक दरिंदों ने लूटी इज्जत, पार की सारी हदें…

रात के अंधरे में कई किलो मीटर तक संघर्ष करती रही महिला...लेकिन...

0 227

प्रदेश में महिला सुरक्षा के दावों के बीच एक दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है। यहां एनएच-24 पर एक 30 वर्षीय युवती का अपहरण कर चलते ऑटो में गैंगरेप (gang raped ) की घटना से हड़कंप मच गया।

यूपी में फिर पुलिस अफसरों का तबादल, कई पुलिस उपाधीक्षक इधर से उधर, देखें लिस्ट…

हाईवे पर करते रहे दरिंदगी, पुलिस गश्त की खुली पोल

दरिंदे रात में कई घंटों तक दिल्ली-लखनऊ हाईवे पर पीड़िता को लेकर दरिंदगी (gang raped ) करते रहे, लेकिन पुलिस को इसकी भनक तक नहीं लगी। आरोपियों के चंगुल से छूटने के बाद पीड़िता मदद के लिए हाईवे पर दौड़ती रही। दिल्ली-लखनऊ हाईवे जैसे व्यस्ततम हाईवे पर गाजियाबाद से लेकर हापुड़ तक पुलिस गश्त के दावों की पोल खुलकर सामने आ गई है।

अंधेरी रात में कई किलोमीटर तक युवती किया संघर्ष

दरअसल रात को नोएडा से डयूटी के बाद लौट रही एक महिला का ऑटो में अपहरण कर लिया गया। उसे तीन युवक अपहरण कर गाजियाबाद के थाना मसूरी तक लेकर आ गए। इसके बाद उन तीनों ने बंधक बनाकर उसके साथ गैंगरेप (gang raped ) किया।

गैंगरेप के बाद आरोपी पीड़िता को हाईवे के पास गांव गालंद के बाहर छोड़ गए। अंधेरी रात में अकेली युवती कई किलोमीटर तक हाईवे पर दौड़ती रही, जो पैदल ही मसूरी थाने तक पहुंच गई।लेकिन पुलिस ने वहां पर उसकी कोई सुनवाई नहीं की।

Gangrape

गैंगरेप कर युवती को हाइवे पर छोड़ा...

Related News
1 of 1,121

पुलिस के मुताबिक पीड़ित पौने नौ बजे गाजियाबाद के एक मॉल से अपनी ड्यूटी खत्म कर अपनी किसी सहेली के साथ सम्राट चौक विजय नगर तक पहुंची थी। जहां से वह लालकुआं गाजियाबाद से जाने के लिए ऑटो में सवार हुई थी।

ऑटो लालकुआं से नीचे जाना था, लेकिन पहले से युवती को बीच में लेकर बैठे बदमाश उसका अपहरण कर उसे मसूरी बॉर्डर के पास एक रजवाहे में ले गए जहां उसके साथ गैंगरेप कर उसे हाईवे पर ही छोड़कर भाग गए थे।

पहले भगाया फिर मेडिकल के बाद दर्ज की रिपोर्ट 

एसपी नीरज जादौन का कहना है कि रिपोर्ट दर्ज कर मेडिकल करा दिया गया है। तीन लोगों के खिलाफ गैंगरेप का मामला दर्ज है। मामले की जांच शुरू कर दी गई है।

हापुड़ पुलिस ने तत्काल रिपोर्ट दर्ज कर पीड़िता को मेडिकल के लिए भेजा, लेकिन सवाल यह है कि जब रात को पीड़िता दौड़ रही थी तो गाजियाबाद पुलिस उसकी आवाज सुनकर रास्ते में ऑटो को रुकवा सकती थी क्योंकि ऑटो गाजियाबाद ही वापस गया होगा।

ये भी पढ़ें..अभिनेत्री यामी गौतम बनी IPS अफसर ! शेयर की तस्वीरें…

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं…)

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments
Loading...
नई खबर पढ़ने के लिए अपना ईमेल रजिस्टर करे !
आप कभी भी इस सेवा को बंद कर सकते है |

 

 

शहर  चुने 

Lucknow
अन्य शहर