इटावा – अपडेट : 108 एम्बुलेंस में आक्सीजन न होने से गई थी युवती जान

0 58

इटावा– उत्तर प्रदेश के इटावा उस वक्त सनसनी फ़ैल गई जब एक सिर प्रेमी ने प्रेमिका और उसके पिता को गोली से उड़ाने के बाद खुद को भी गोली मार ली। जहां प्रेमी की मौके पर ही मौत हो गई वहीं गंभीर रुप से घायल हुई आकांक्षा को उपचार के लिए जिला अस्पताल में लाते ही डा. पीयूष त्रिपाठी ने उसे सैफई के लिए रिफर कर दिया।

 

Related News
1 of 778

घायल आकांक्षा को सैफई पीजीआई के लिए जिस एम्बुलेंस में ले जाया जा रहा था उस एम्बुलेंस में आक्सीजन नहीं थी वहीं एम्बुलेंस का चालक भी घायल युवती को अस्पताल स्टाफ द्बारा एम्बुलेंस में लिटालने के लगभग 20 मिनट बाद गाड़ी रोक कर सैफई के लिए  रवाना हुआ था।इस दौरान आकांक्षा की मौत हो गई।

बता दें कि मामला बकेबर के लखना इलाके का है जहां एक सिर फिरे प्रेमी ने प्रेमिका और उसके पिता को गोली मारने के बाद खुद भी गोली मार ली थी। इस दौरान सिरफेरे आशिक की मौके पर ही मौत हो गई थी जबकि प्रेमिका के पिता को अस्पताल में भर्ती कराया गया है।वही प्रेमिका की अस्पताल जाते वक्त मौत हो गई इस बीच जिला अस्पताल की लापरवाही सामने आई।यदि 108 एम्बेलेंस में आक्सीजन होता तो शयाद आकांक्षा की जान बच सकती थी।

रिपोर्ट – विवेक दुबे , इटावा 

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments
Loading...