बड़ा दावा, अब कोरोना का इलाज सिर्फ 72 घंटे में..

डॉक्टर का दावा अपना भी 72 घण्टें में कर चुके है इलाज, एयरोसोल बेस्ड थैरेपी से कर रहे कोरोना मरीजों का इलाज

0 967

कोरोना बीमारी से जूझ रहे देशवासियों को एक राहत भरी खबर आ रही है। यहां के एक डॉक्टर ने कोविड-19 के संक्रमण को लेकर 72 घंटे में ठीक करने का दावा किया है। डॉक्टर का दावा है कि उन्होंने एक ऐसा फार्मूला विकसित किया है जिससे वे कोरोना पॉजिटिव मरीज को 72 घंटे के अंदर ही ठीक कर देते हैं।

ये भी पढ़ें..Good news: मां बनने वाली हैं अनुष्का, कोहली ने शेयर की तस्वीर

यही नहीं डॉक्टर ने इसके लिए बड़े स्तर पर ट्रायल के लिए भारत सरकार के स्वास्थ्य मंत्रालय से अनुमति मांगी है, यदि सरकार ने उन्हें अनुमति दे दी तो कोविड19 पर ये डॉक्टर जल्द काबू पाने का दावा कर रहे है।

एयरोसोल बेस्ड थैरेपी से मरीजो को ठीक करने का दावा

बता दें कि ये वरिष्ठ डॉक्टर यूपी के एटा जिले के रहने वाले शैलेन्द्र जैन है। जो “एयरोसोल बेस्ड थैरेपी” से कोरोना एंटीजन को 72 घंटे में ठीक करने का दावा कर रहे है। वे कहते हैं कि इतनी जल्दी रिकवरी तो किसी भी ड्रग की पॉसिबल नही है।

इसके बहुत ही कम साइड इफ़ेक्टस हैं। हल्का सा जुकाम,गले मे खरास होती है। वे कहते हैं कि हमने भारत सरकार के स्वास्थ्य मंत्रालय से अनुमति मांगी है। दुनिया को इस खतरे से जितनी जल्दी मुक्ति दिला सकें उतना ही अच्छा है।

कई मरीज हो चुके है ठीक

corona

इतना ही नहीं उन्होंने बताया कि इस थैरेपी से उन्होंने अनेको कोरोना मरीजों को ठीक कर चुके है। अब वो इस कोविड-19 संक्रमण जैसी गंभीर बीमारी को वो आगे नही फैला सकते। वे कहते हैं कि एंटीजन नेगेटिव करने का अभी तक कोई भी एजेंट दुनिया मे ट्राई नही किया गया है। वैक्सीन भी अभी ट्रायल पर है। पर मेरा फॉर्मूला जरूर कामयाब होने का दावा है।

वही डॉ. शैलेन्द्र जैन अपने इस फॉर्मूले के द्वारा देश को फ्री सेवा देना चाहते हैं। जब उनसे पूंछा गया कि इससे कोविड मरीजों को क्या खर्चा आएगा तो उन्होंने बताया कि “इस समय हम देश सेवा करेंगे और खर्चे के बारे में बात नही करेंगे,जो कुछ करेंगे फ्री ऑफ कॉस्ट करेंगे”

Related News
1 of 666

कोरोना

इलाज के दौरान खुद हुए कोरोना पॉजिटिव

वही इसी बीच डॉ. शैलेन्द्र जैन ने एटा में ही अनेको कोरोना पॉजिटिव मरीजों का अपनी इसी थेरेपी से उनको उनके घरों में ही आइसोलेट कराकर तीन दिनों के अंदर अपने इस इलाज से ही सही कर दिया। जिसको लेकर इस एटा की चिकित्सा पध्दति की लोग बड़ी चर्चा कर रहे है। इन्ही डॉक्टर की दवा से और थेरेपी से अनेकों लोग ठीक हुए है और आपको बता दें कि कोरोना संक्रमित लोगो का इलाज करते हुए उनकी भी रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आ गयी।

अपना भी 72 घण्टें में किया इलाज

अपना भी इलाज 72 घण्टे में सही होने के बाद अपनी जांच सरकारी अस्पताल में भी क्रॉस चेक कराई वहाँ भी उनकी कोरोना की नेगेटिव रिपोर्ट आ चुकी है। इस प्रकार से कोरोना के बहुत से मरीजों को डॉ. शैलेन्द्र जैन ने इसी थैरेपी से ठीक कर चुके है। इनके अतिरिक्त और भी कई मरीजों को ठीक करने का दावा कर रहे हैं।

corona

फॉर्मूले का होगा परीक्षण

ऐसे में जब पूरी दुनिया कोरोना जैसी वैश्विक महामारी से जूझ रही है ऐसे में सरकार को भी अपनी निगरानी में इस थेरेपी और फॉर्मूले का परीक्षण कर लेना चाहिए और यदि ये उसमे खरा उतरते है तो इसको बड़े पैमाने पर देश भर में कोरोना से बचाव के लिए प्रयोग किया जाएगा।

ये भी पढ़ें..बड़ा झटका, IAS से लेकर चतुर्थ श्रेणी के कर्मचारियों तक, वेतन में होगी कटौती!

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं। )

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments
Loading...
नई खबर पढ़ने के लिए अपना ईमेल रजिस्टर करे !
आप कभी भी इस सेवा को बंद कर सकते है |

 

 

शहर  चुने 

Lucknow
अन्य शहर