Ghulam Nabi Azad: कांग्रेस से आजाद हुए गुलाम, सभी पदों से दिया इस्तीफा, बेटे संग बनाएंगे नई पार्टी

0 141

कांग्रेस के सीनियर नेता गुलाम नबी आजाद ने 51 साल बाद पार्टी की प्राथमिक सदस्यता समेत सभी पदों से इस्तीफा दे दिया है. इस्तीफे के साथ ही आजाद ने यह भी साफ कर दिया है कि नयी पार्टी बनाएंगे. अपने इस्तीफे को लेकर उन्होंने शुक्रवार को सोनिया गांधी को 5 पन्नों का पत्र भी भेजा. इस पत्र में गुलाम नबी ने पार्टी के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष सोनिया गांधी के नेतृत्व पर बड़े सवाल उठाए हैं. इस दौरान उन्होंने खासतौर पर ‘जनवरी 2013’ का जिक्र किया.

ये भी पढ़ें..सोनाली फोगाट की मौत को लेकर पुलिस ने किया बड़ा खुलासा, जानें क्या है सच्चाई

सोनिया गांधी को लिखे पत्र में गुलाम नबी आजाद ने कहा ‘बड़े अफसोस और बेहद भावुक दिल के साथ मैंने भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस से अपना आधा सदी पुराना नाता तोड़ने का फैसला किया है. कांग्रेस लड़ने की अपनी इच्छाशक्ति और क्षमता खो चुकी है. कांग्रेस में हालात अब ऐसी स्थिति पर पहुंच गए है, जहां से वापस नहीं आया जा सकता है. आपकी अध्यक्षता में पार्टी अच्छे से काम कर रही थी और सबसे मशविरा लिया जाता था. दुर्भाग्य से राहुल गांधी की राजनीति में एंट्री के बाद और खासतौर पर जनवरी 2013 में कांग्रेस का उपाध्यक्ष बनने के बाद सलाह-मशविरे के साथ चलने की जो परंपरा थी, वह ध्वस्त हो गई. वह ‘भारी मन’ से यह कदम उठा रहे हैं. ‘भारत जोड़ो यात्रा’ से पहले ‘कांग्रेस जोड़ो यात्रा’ निकाली जानी चाहिए थी. पार्टी में किसी भी स्तर पर चुनाव संपन्न नहीं हुए.’

गुलाम नबी आजाद ने आगे लिखा ‘राहुल गांधी के आने के बाद सारे वरिष्ठ और अनुभवी नेताओं को किनारे लगा दिया गया. उनकी जगह गैर-अनुभवी और चापलूस दरबारियों ने ले ली. यही नहीं इन्हीं लोगों के हाथों में पार्टी के मामलों की जिम्मेदारी भी सौंप दी गई. इसका अपरिपक्वता का बड़ा उदाहरण वह था, जब राहुल गांधी ने मीडिया की मौजूदगी में सरकार के अध्यादेश को ही फाड़ दिया. उस अध्यादेश पर कांग्रेस के कोर ग्रुप में चर्चा हुई थी और कैबिनेट से मंजूरी भी दी गई थी. ऐसे बचकाना व्यवहार ने प्रधानमंत्री और भारत सरकार की गरिमा को ही कमजोर कर दिया था.’

इसके अलावा, गुलाम नबी ने पत्र में कांग्रेस से अपने रिश्ते और गांधी परिवार की कई पीढ़ियों के साथ काम करने का जिक्र करते हुए कहा ‘मैंने आपके दिवंगत पति राजीव गांधी, इंदिरा गांधी, संजय गांधी के साथ काम किया था. आधी सदी से ज्यादा का वक्त मैंने कांग्रेस को दिया है, लेकिन अब बेहद भारी मन से मैं कांग्रेस के सभी पदों से तत्काल इस्तीफा देता हूं और पार्टी से भी अपने संबंध समाप्त कर रहा हूं.’

Related News
1 of 1,402

दरअसल, गुलाम नबी आजाद के इस्तीफे के बाद कयास लगाए जा रहे थे कि अब उनका अगला कदम क्या होगा? इस्तीफा देने के बाद गुलाम नबी ने जम्मू-कश्मीर की आवाम से कहा है कि वह अब अपने राज्य की ओर रुख कर रहे हैं. वहीं एक निजी चैनल से बातचीत में उन्होंने ऐलान करते हुए कहा कि वह अपने बेटे सद्दाम के साथ नयी राजनीतिक पार्टी का बनाएंगे. राजनीतिक विश्लेषकों की मानें तो गुलाम नबी आजाद का यह कदम पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह की तरह ‘कैप्टन पार्ट 2’ का एक बड़ा हिस्सा माना जा रहा है.

लंबे समय से कश्मीर में राजनीति और गुलाम नबी आजाद के पूरे राजनीतिक सफर को करीब से देखने वाले वरिष्ठ राजनीतिक विश्लेषक एसएन कॉल के मुताबिक, गुलाम नबी आजाद अपने बेटे सद्दाम के साथ कश्मीर में एक नयी पार्टी खड़ी कर आने वाले चुनावों में जम्मू-कश्मीर में सभी विधानसभा सीटों पर अपने प्रत्याशी खड़े कर सकते हैं. जम्मू-कश्मीर के राजनीतिक गलियारों में भी इसी बात की हलचल शुरू हो गई है.

वहीं, जम्मू-कश्मीर कांग्रेस नेता जीएम सरूरी ने कहा हम 5 पूर्व विधायक (जीएम सरूरी, हाजी अब्दुल राशिद, मोहम्मद अमीन भट, गुलजार अहमद वानी और चौधरी मोहम्मद अकरम) गुलाम नबी आजाद के समर्थन में कांग्रेस पार्टी से इस्तीफा दे रहे हैं. अब केवल जेकेपीसी अध्यक्ष अकेले ही रहेंगे. भाजपा नेता सुनील जाखड़ ने कहा ‘यह अंत की शुरुआत है, श्री आजाद के इस्तीफे का मतलब यह है कि कांग्रेस आ रही थी. उन्होंने इस स्थिति को कायम रखा. यह दीवार पर लिख रहा था, जिसे उन्होंने अनदेखा करना चुना. चाहे वह ज्योतिरादित्य सिंधिया, आरपीएन सिंह, जितिन प्रसाद और अब आजाद साहब हों.’

ये भी पढ़ें..शिक्षक ने साथियों के साथ मिलकर नाबालिग छात्रा के साथ किया दुष्कर्म, दी जान से मारने की धमकी

ये भी पढ़ें..लखनऊ के लूलू मॉल में नमाज पढ़ने का Video वायरल, हिंदू संगठन ने दी धमकी

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं…)

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments
Loading...
नई खबर पढ़ने के लिए अपना ईमेल रजिस्टर करे !
आप कभी भी इस सेवा को बंद कर सकते है |
busty ebony ts pounding studs asshole.anal sex

 

 

शहर  चुने 

Lucknow
अन्य शहर