Qatar Court Verdict: कतर में इंडियन NAVY के 8 पूर्व अफसरों को मौत की सजा

0 159

अरब देश कतर में गुरुवार (26 अक्टूबर) को आठ भारतीयों को मौत की सजा सुनाई गई। इन सभी पर जासूसी का आरोप है। दरअसल आठ महीने पहले भारतीय नौसेना के 8 पूर्व अधिकारियों को जासूसी के आरोप में कतर में गिरफ्तार किया गया था। यह गिरफ्तारी पिछले साल सितंबर में हुई थी। इस मामले में भारतीय विदेश मंत्रालय ने बयान जारी कर कहा है कि हम मौत की सजा के फैसले से हैरान हैं। विस्तृत निर्णय की प्रतीक्षा है।

विदेश मंत्रालय ने कहा, ”हम परिवार के सदस्यों और कानूनी टीम के संपर्क में हैं और सभी कानूनी विकल्प तलाश रहे हैं।” हम इस मामले को बहुत महत्वपूर्ण मानते हैं और इस पर कड़ी नजर रख रहे हैं।’ सभी कांसुलर और कानूनी सहायता प्रदान करना जारी रखेंगे। इस फैसले को कतरी अधिकारियों के सामने भी उठाएंगे।

ये भी पढ़ें..UP: पातालकोट एक्सप्रेस में लगी भीषण आग, कई यात्री झुलसे

ये सभी अधिकारी नौसेना दी अपनी सेवाएं

ये सभी अधिकारी भारतीय नौसेना में अलग-अलग पदों पर काम कर चुके हैं। उन पर इजराइल के लिए जासूसी करने का आरोप है। इन 8 लोगों में प्रतिष्ठित अधिकारी भी शामिल हैं। उन्होंने एक बार प्रमुख भारतीय युद्धपोतों की कमान संभाली थी। वर्तमान में डहरा ग्लोबल टेक्नोलॉजीज और कंसल्टेंसी सर्विसेज के लिए काम कर रहे थे। यह एक निजी फर्म है, जो कतर के सशस्त्र बलों को प्रशिक्षण और संबंधित सेवाएं प्रदान करती है।

 

Related News
1 of 1,042

8 पूर्व नौसैनिकों के ये हैं नाम

इन आठ पूर्व नौसैनिकों के नाम हैं कैप्टन बीरेंद्र कुमार वर्मा, कैप्टन सौरभ वशिष्ठ, कैप्टन नवतेज सिंह गिल, कमांडर अमित नागपाल, कमांडर पूर्णेंदु तिवारी, कमांडर सुगुनाकर पकाला, कमांडर संजीव गुप्ता और नाविक रागेश। इन सभी को जासूसी के आरोप में पूछताछ के लिए उनके स्थानीय आवास से गिरफ्तार किया गया था। रिपोर्ट के मुताबिक, इन 8 भारतीयों की जमानत याचिकाएं कई बार खारिज हो चुकी हैं। कतरी अधिकारियों ने उसकी हिरासत बढ़ा दी थी। गुरुवार को कतर की अदालत ने 8 भारतीयों को मौत की सजा सुनाई।

समाचार एजेंसी एएनआई ने आधिकारिक भारतीय सूत्रों का हवाला देते हुए कहा कि भारतीय एजेंसियां अब इस मामले को उच्चतम स्तर पर उठाएंगी। लेकिन क़तर सरकार ने इस मुद्दे पर कोई नरमी के संकेत नहीं दिखाए हैं। सूत्रों ने न्यूज एजेंसी को बताया कि भारतीय नौसेना के पूर्व अधिकारियों को पाकिस्तानी खुफिया एजेंसियों द्वारा फंसाए जाने का संदेह है।

ये भी पढ़ें..कमल बनकर अब्बास ने युवती को फंसाया, फिर रेप कर बनाया धर्मांतरण का दबाव, विरोध पर श्रद्धा की तरह टूकड़े करने की दी धमकी

ये भी पढ़ें.नम्रता मल्ला की हॉट क्लिप ने बढ़ाया सोशल मीडिया का पारा, बेली डांस कर लूट ली महफिल

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं…)

 

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments
Loading...