EPFO Interest Rates: PF खाताधारकों को अब मिलेगा शानदार रिटर्न, इतनी बढ़ी ब्याज दर

0 155

EPFO Interest Rates: 2023 – 24 के लिए कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (EPFO) के केंद्रीय न्यासी बोर्ड (CBT) ने कर्मचारी भविष्य निधि (EPF) अकाउंट के लिए ब्याज दरों को निर्धारित किया है. ईपीएफओ ने इस वित्त वर्ष करोड़ों कर्मचारियों की ब्याज दर में बढ़ोतरी की है.

समाचार एजेंसी पीटीआई ने बताया कि, कर्मचारियों को पहले की तुलना में 0.10 प्रतिशत अधिक भुगतान मिलेगा. इसका अर्थ है कि आपके पीएफ अकाउंट पर 8.25% की ब्याज दर अब मिलेगी. ईपीएफओ ने पिछले वर्ष 28 मार्च को 2022-23 के लिए कर्मचारी भविष्य निधि (EPF) खातों पर 8.15 प्रतिशत की ब्याज दर की घोषणा की है. वहीं, FY22 के लिए EPFo ने 8.10% का ब्याज दिया था.

सीबीटी में बढौतरी

PTI ने बताया कि, सेंट्रल बोर्ड ऑफ ट्रस्टीज (CBT) EPFO के शीर्ष निर्णय लेने वाले निकाय, ने शनिवार को अपनी बैठक में 2023-24 के लिए EPF पर 8.25 प्रतिशत ब्याज दर देने का फैसला किया. 2023-24 के लिए ईपीएफ जमा पर ब्याज दर को सहमति के लिए वित्त मंत्रालय को सीबीटी के फैसले के बाद भेजा जाएगा.

ये भी पढ़ें..Haldwani Violence: हल्द्वानी हिंसा में DGP ने किया बड़ा खुलासा, अब तक 5 लोगों की गई जान

2022 घटी थी EPFO दर

ईपीएफओ ने मार्च 2022 में लगभग 7 करोड़ कर्मचारियों के लिए 2021-22 के लिए EPF पर ब्याज को घटाकर चार दशक के निचले स्तर 8.1 प्रतिशत कर दिया, जो 2020–2021 में 8.5 प्रतिशत था. ईपीएफ का ब्याज घटने के बाद 1977-78 के बाद से सबसे कम हो गया था. 1977-78 में ईपीएफ ब्याज दर 8 प्रतिशत थी. 2020-2021 के लिए सीबीटी ने ईपीएफ जमा पर 8.5 प्रतिशत ब्याज दर निर्धारित की है.

Related News
1 of 1,025

इस साल घटा था ब्याज दर

मार्च 2020 में, ईपीएफओ ने 2019-20 के लिए भविष्य निधि जमा (EPF Deposit) पर ब्याज दर को घटाकर 8.5 प्रतिशत कर दिया, जो 2018-19 के लिए 8.65 प्रतिशत था. यह सात साल का निचला स्तर था. 2016-17 और 2017-18 में, EPFO ने अपने ग्राहकों को 8.65 प्रतिशत ब्याज दर दी. वहीं 2015-16 में ब्याज दर 8.8 प्रतिशत से थोड़ी अधिक थी. इसके अलावा, 2013-14 और 2014-15 में ईपीएफओ ने 8.75 प्रतिशत ब्याज दर दी.

7 करोड़ कर्मचारी है रजिस्टर्ड

गौरतलब है कि, EPFO हर साल प्राइवेट क्षेत्र में काम करने वाले कर्मचारियों के पीएफ अकाउंट के तहत ब्याज दरों को घोषित करती है. कर्मचारी भविष्य निधि संगठन में लगभग 7 करोड़ लोग शामिल हैं. ईपीएफओ के निर्णय के बाद वित्त मंत्रालय अंतिम निर्णय लेता है, कर्मचारी भविष्य निधि खाते पर प्रति वर्ष 31 मार्च को ब्याज मिलता है.

ये भी पढ़ें..कमल बनकर अब्बास ने युवती को फंसाया, फिर रेप कर बनाया धर्मांतरण का दबाव, विरोध पर श्रद्धा की तरह टूकड़े करने की दी धमकी

ये भी पढ़ें.नम्रता मल्ला की हॉट क्लिप ने बढ़ाया सोशल मीडिया का पारा, बेली डांस कर लूट ली महफिल

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं…)

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments
Loading...
busty ebony ts pounding studs asshole.anal sex

 

 

शहर  चुने 

Lucknow
अन्य शहर