Rajnath Singh Raod Show: राजनाथ सिंह का लखनऊ में शक्ति प्रदर्शन..सड़कों पर उमड़ा जनसैलाब

186

Rajnath Singh Raod Show: भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता और देश के रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने सोमवार को लखनऊ लोकसभा सीट के लिए अपना नामांकन दाखिल कर दिया। इस दौरान उनके साथ यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और उत्तराखंड के सीएम पुष्कर सिंह धामी भी मौजूद रहे।

सड़कों पर उमड़ा जनसैलाब

इससे पहले भाजपा प्रदेश मुख्यालय से जिला कलेक्ट्रेट तक एक भव्य रोड शो निकाला गया। उपमुख्यमंत्री ब्रजेश पाठक और केशव मौर्य, राज्य भाजपा प्रमुख भूपेन्द्र चौधरी, राज्यसभा सांसद दिनेश शर्मा और सुधांशु त्रिवेदी भी ‘लखनऊ विकास यात्रा’ के रूप में तैयार किए गए रथ पर सवार दिखे। इसके अलावा रोड शो में प्रशांत सिंह समेत बड़ी संख्या में भाजपा पदाधिकारी, जनप्रतिनिधि, नेता और हजारों कार्यकर्ता शामिल हुए। राजनाथ सिंह के रोड शो में शामिल होने के लिए लोगों की भारी भीड़ उमड़ पड़ी। इस दौरान लोगों ने रक्षा मंत्री पर पुष्पों की वर्षा की।

नामांकन से पहले हनुमान सेतु मंदिर में किया दर्शन

नामांकन से पहले राजनाथ सिंह ने लखनऊ के हनुमान सेतु मंदिर में जाकर पूजा-अर्चना की। इसके साथ ही उन्होंने भगवान शिव का जलाभिषेक भी किया। मंदिर से सीधे हजरतगंज पहुंचे। वहां से रोड शो के साथ कलक्ट्रेट में नामांकन दाखिल किया।

ये भी पढ़ेंः-अरविंदर सिंह लवली ने दिल्ली कांग्रेस अध्यक्ष पद से दिया इस्तीफा, इस वजह से थे नाराज

Related News
1 of 1,457

इससे पहले पत्रकारों से बातचीत में धामी ने कहा कि मैंने बदलते लखनऊ को देखा है, आज यहां फ्लाईओवर हैं, मेट्रो है, तमाम तरह के पार्क हैं, सड़कें हैं, लाइटें हैं, गलियां हैं। लखनऊ का बहुत तेजी से विकास हुआ है। अटल जी के समय जो काम शुरू हुआ उसे राजनाथ सिंह के नेतृत्व में आगे बढ़ाया गया है।

जीत की हैट्रिक लगाएं राजनाथ सिंह

बता दें कि रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह तीसरी बार बीजेपी के टिकट पर लखनऊ सीट से चुनाव लड़ रहे हैं। इससे पहले वह 2014 और 2019 में लखनऊ से भारी बहुमत से जीत हासिल की थी। अब उनकी नजर जीत की हैट्रिक पर है। इस बार उनके खिलाफ समाजवादी पार्टी से रविदास मेहरोत्रा चुनाव लड़ रहे हैं।

वहीं, बसपा ने सरवर मलिक को टिकट देकर मुकाबले को त्रिकोणीय बनाने की कोशिश की है। दरअसल लखनऊ सीट बीजेपी के लिए बेहद सुरक्षित सीट मानी जाती है। इस सीट से पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी पांच बार सांसद रहे। इसके बाद 2009 में पूर्व राज्यपाल लालजी टंडन ने इस सीट पर कमल खिलाया। इस सीट से पिछले दो बार से राजनाथ सिंह सांसद हैं।

ये भी पढ़ें..कमल बनकर अब्बास ने युवती को फंसाया, फिर रेप कर बनाया धर्मांतरण का दबाव, विरोध पर श्रद्धा की तरह टूकड़े करने की दी धमकी

ये भी पढ़ें.नम्रता मल्ला की हॉट क्लिप ने बढ़ाया सोशल मीडिया का पारा, बेली डांस कर लूट ली महफिल

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं…)

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments
Loading...