International Yoga Day: 21 जून को ही क्यों मनाते हैं योग दिवस, जानें इतिहास और महत्व…

योगा को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर पहचान दिलाने के लिए साल 2015 में विश्व योग दिवस की शुरुआत की गई थी...

0 85

21 जून विश्व भर में अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस (Yoga Day) मनाया जाता है. योगा को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर पहचान दिलाने के लिए साल 2015 में विश्व योग दिवस की शुरुआत की गई थी. 21 जून को इस साल 7वां योग दिवस मनाया जा रहा है.

ये भी पढ़ें..कोरोना कर्फ्यू में और छूट, यूपी में आज से खुलेंगे रेस्तरां और शॉपिंग मॉल…

योग हमारे जिंदगी का एक अहम हिस्सा बन चुका है. भागदौड़ भरी जिंदगी में खुद को स्वस्थ बनाए रखने के लिए योग बहुत जरूरी है. कोरोना काल में योग का महत्व पहले से भी ज्यादा बढ़ गया है. कोविड की रिकवरी के बाद भी योग से लोगों को मानसिक और शारीरिक रूप से स्वस्थ बनने में मदद मिल रही है.

21 जून के दिन मनाने के पीछे है खास वजह

international yoga day

21 जून के दिन मनाने के पीछे एक खास वजह है. भारतीय संस्कृति के मुताबिक ग्रीष्म संक्रांति के बाद सूर्य दक्षिणायन हो जाता है. इस दिन उत्तरी गोलार्ध पर सबसे ज्यादा सूर्य की रोशनी पड़ती है. साल के 365 दिनों में से 21 जून साल का सबसे बड़ा दिन होता है. 21 जून के दिन सूर्य जल्दी उगता है और देरी से ढलता है. कहा जाता है कि इस दिन सूर्य का तप सबसे ज्यादा प्रभावी होता है. इसी वजह से 21 जून को इंटरनेशनल योगा डे’ के रूप पर मनाया जाता है.

साल 2015 में मनाया गया पहला योग दिवस

अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस (Yoga Day) मनाने की शुरुआत सबसे पहले साल 2015 में हुई थी.11 दिसंबर 2014 को संयुक्त राष्ट्र महासभा (UN) ने 21 जून को योग दिवस की घोषणा की थी.तब से भारत समेत पूरी दुनिया इस दिन को ‘विश्व योग दिवस’ के रूप में मनाती है.

Related News
1 of 855

योग का महत्व

 International Yoga day

योग (Yoga Day) भारत की देन है, इसमें कोई दो राय नहीं है. योग एक ऐसा वरदान है जो अगर जिंदगी में आत्मसात कर लिया जाए तो इंसान स्वस्थ्य रहने के साथ सकारात्मक ऊर्जा से भर उठता है.योग एक ऐसा विज्ञान है जो इंसान को मानसिक शारीरिक और भावनात्मक तौर पर मजबूत बनाता है. आधुनिक युग में तनाव और चिंता को कम करने के लिए योग रामबाण है. कहा जाता है कि’ करो योग रहो निरोग’ इस सिर्फ स्लोगन नहीं है बल्कि कई मायनों में सच भी है.

इस बार योग दिवस की थीम

कोरोना वायरस महामारी को ध्यान में रखते हुए इस साल एक ऐसी थीम रखी गई है जो आपकी सुरक्षा और सेहत दोनों का ख्याल रखेगी. लोगों के बीच सोशल डिस्टेंसिंग बनी रहे इसलिए इस साल यानी 2021 के लिए ‘बी विद योग, ‘बी एट होम’ यानी ‘योग के साथ रहें, घर पर रहें’ थीम रखी गई है.

ये भी पढ़ें..सिपाहियों को पसंद आ रहीं विभागीय दुल्हनियां…

ये भी पढ़ें..15 साल की छात्रा ने स्‍कूल के बाथरूम में 25 लड़को के साथ किया सेक्स, वायरल वीडियो से हुआ खुलासा…

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं…)

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments
Loading...
नई खबर पढ़ने के लिए अपना ईमेल रजिस्टर करे !
आप कभी भी इस सेवा को बंद कर सकते है |

 

 

शहर  चुने 

Lucknow
अन्य शहर