लखनऊ के सबसे पॉश इलाके में चल रहा था गंदा धंधा, 15 दिन पहले दिया जाता था टोकन

पुलिस ने स्थानीय लोगों की सूचना पर कार्रवाई की, दबिश में सात युवतियां और पांच युवक गिरफ्तार

0 251

कोरोना काल में भी सेक्स रैकेट (sex racket ) गोरखधंध धड़ल्ले से चल रहा है। वहीं उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ के इंदिरा नगर इलाके में स्थित एक मकान में सेक्स रैकेट संचालित किया जा रहा था। शुक्रवार देर रात पुलिस ने अचानक दबिश दी।

इस दौरान सात लड़कियों और पांच युवकों को गिरफ्तार किया है। पूछताछ में पता चला कि सेक्स रैकेट (sex racket ) का संचालक रवि उर्फ पंकज गुप्ता नाम के सख्स चलता है और लड़कियों को फोन कर बुलाता था और ग्राहकों से मुलाकात करवाता था।

ये भी पढ़ें..मांगों को लेकर आमने-सामने पुलिस के जवान, पथराव में SP समेत कई पुलिसकर्मी घायल

सात युवतियां गिरफ्तार

lucknow beggar arrested for running sex racket | लखनऊ में सेक्स रैकेट का  भंडाफोड़, गलियों में भीख मांगने वाला निकला सरगना | Hari Bhoomi

पुलिस ने खुलासा किया कि ग्राहकों की ऑनलाइन बुकिंग की जाती थी। इसके लिए 15 दिन पहले मोबाइल ऐप से ऑनलाइन बुकिंग के जरिए ग्राहकों को टोकन मिलता था। पुलिस ने मौके काफी सारा समान बरामद किया। फिलहाल पुलिस ने अनैतिक व्यापार निवारण अधिनियम, कोविड-19 महामारी एक्ट के तहत कार्रवाई कर सभी को जेल भेज दिया।

वहीं पुलिस ने बताया कि मुंशी पुलिया मेट्रो स्टेशन के पास पुलिस टीम मौजूद थी, तभी जानकारी मिली कि शिवाजीपुरम लेन में रवि उर्फ पंकज गुप्ता देह व्यापार संचालित कर रहा है। पुलिस टीम ने जब मकान पर दबिश दी तो वहां सात युवतियां और पांच युवक मिले।

Related News
1 of 1,099
रेट तय होने के बाद मिलता था टोकन

High Profile Sex Racket Was Going On In Lucknow, 12 Arrested, Online  Booking Was Done - लखनऊ में चल रहा था हाई प्रोफाइल सेक्स रैकेट, 12  गिरफ्तार, ऑनलाइन होती थी बुकिंग -

पुलिस पूछताछ में  खुलासा हुआ कि ग्राहकों से रेट तय होने पर टोकन दिया जाता था। लड़कियों की फोटो दिखाकर 2500 से 10 हजार रुपए तक की बुकिंग होती थी। बुकिंग के बाद सेक्स रैकेट (sex racket ) संचालक अपने ग्राहकों को लेने के लिए भेजता था, जिससे किसी को कोई शक न हो।

पकड़ी गई लड़कियों ने पुलिस को बताया कि पंकज पश्चिम बंगाल, राजस्थान और दिल्ली जैसे राज्यों से लड़कियां को बुलाकर देह व्यापार कराता है। युवतियों को 800 रुपए दिए जाते हैं। बाकी पैसे पंकज खुद रखता है।

ये भी पढ़ें..बड़ा झटका, IAS से लेकर चतुर्थ श्रेणी के कर्मचारियों तक, वेतन में होगी कटौती!

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं। )

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments
Loading...
नई खबर पढ़ने के लिए अपना ईमेल रजिस्टर करे !
आप कभी भी इस सेवा को बंद कर सकते है |

 

 

शहर  चुने 

Lucknow
अन्य शहर