Delhi Water Crisis: अनिश्चितकालीन अनशन पर बैठी दिल्ली की जल मंत्री आतिशी

164

Delhi Water Crisis, नई दिल्लीः देश की राजधानी दिल्ली में जल संकट को लेकर बवाल मचा हुआ है। वहीं दिल्ली में पानी की किल्लत को लेकर आम आदमी पार्टी की नेता और दिल्ली सरकार की जल मंत्री आतिशी (Atishi) ने अनिश्चितकालीन अनशन शुरू कर दिया है। अनशन पर बैठने से पहले वह मुख्यमंत्री आवास पहुंचीं और सुनीता केजरीवाल, सौरभ भारद्वाज और संजय सिंह के साथ राजघाट गईं। राजघाट पहुंचकर उन्होंने महात्मा गांधी समाधि पर पुष्प अर्पित किए और यहां से सीधे अनशन पर बैठने के लिए भोगल के लिए रवाना हो गईं।

अनिश्चितकालीन अनशन पर बैठी

दरअसल आतिशी (Atishi) ने दिल्ली में चल रहे जल संकट को लेकर अनिश्चितकालीन अनशन पर बैठने का फैसला किया है। उन्होंने कहा कि हरियाणा और केंद्र सरकार दोनों ही दिल्ली के लोगों को पानी के लिए तरसा रही हैं। जनता मदद के लिए रो रही है और हरियाणा सरकार दिल्ली के हिस्से का पानी नहीं दे रही है। इसलिए अब अनिश्चितकालीन अनशन शुरू किया जा रहा है। आतिशी ने कहा कि दिल्लीवासियों को उनके हक का पानी मिले, इसके लिए हर संभव प्रयास किया गया। फिर भी हरियाणा ने पानी नहीं दिया, इसलिए अब हमें मजबूरन पानी सत्याग्रह करना पड़ रहा है।

जानें किस वजह से पानी को लेकर मचा हाहाकार

उन्होंने कहा कि गांधी जी ने सिखाया है कि सत्य की लड़ाई लड़ने के लिए सत्याग्रह ही अंतिम उपाय है। मैं सत्याग्रह के जरिए दिल्ली के 28 लाख लोगों के लिए यह लड़ाई लड़ूंगी। आतिशी ने कहा कि हरियाणा से दिल्ली को 613 मिलियन गैलन (एमजीडी) पानी मिलना चाहिए, लेकिन हरियाणा सिर्फ 513 एमजीडी पानी दे रहा है। हरियाणा से दिल्ली में हर दिन 100 एमजीडी कम पानी आ रहा है। इस वजह से पानी के लिए हाहाकार मचा हुआ है और 28 लाख से ज्यादा लोगों को उनके हक का पानी नहीं मिल पा रहा है। जब तक हरियाणा सरकार दिल्ली के 28 लाख लोगों के हक का पानी नहीं देती, मैं अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल पर बैठूंगी।

Atishi ने कहा कि दिल्ली में इस समय भीषण गर्मी पड़ रही है। दिल्ली के लोग इस भीषण गर्मी से परेशान हैं। ऐसे में और पानी की जरूरत है। दिल्ली की कुल जलापूर्ति 1005 मिलियन गैलन प्रतिदिन है। इसमें से 613 एमजीडी हरियाणा से आता है। लेकिन हरियाणा पिछले कुछ दिनों से सिर्फ 513 एमजीडी पानी ही दे रहा है। यानी दिल्ली में हर दिन 100 मिलियन गैलन कम पानी आ रहा है। इस वजह से दिल्ली के 28 लाख से ज्यादा लोगों को उनके हिस्से का पानी नहीं मिल पा रहा है।

Related News
1 of 601

मेरे पास और कोई दूसरा विकल्प नहीं-आतिशी

उन्होंने कहा, “जल मंत्री के तौर पर मैंने हर संभव कोशिश की। मैंने केंद्र सरकार से बात की, हरियाणा सरकार से बात की, हिमाचल प्रदेश सरकार से बात की। हिमाचल पानी देने को तैयार है लेकिन वह भी हरियाणा से होकर आना है और हरियाणा सरकार ने ऐसा करने से मना कर दिया। हम सुप्रीम कोर्ट गए। हमने अपने अफसरों को हरियाणा सरकार के पास भेजा, लेकिन फिर भी हरियाणा सरकार ने पानी देने से मना कर दिया। मैंने पीएम मोदी को भी चिट्ठी लिखी। लेकिन इतना सब होने के बाद भी हरियाणा सरकार ने दिल्ली को पानी नहीं दिया है।”

आतिशी ने कहा, “अब मेरे पास दिल्ली के लोगों को पानी मुहैया कराने के लिए कोई दूसरा विकल्प नहीं बचा है। हर संभव प्रयास करने के बावजूद मैं दिल्ली के लोगों को पानी मुहैया नहीं करा पाई हूं और मैं उनकी पीड़ा अब और नहीं देख सकती। इसलिए मैं 21 जून से दिल्ली के लोगों को पानी मुहैया कराने के लिए अनिश्चितकालीन अनशन पर बैठ रही हूं।”

ये भी पढ़ेंः- UP Weather: यूपी में झुलसाती गर्मी से मिलेगी राहत ! तीन दिन बाद सुहावना होगा मौसम

ये भी पढ़ें: IPL 2024: दिल्ली कैपिटल्स को तगड़ा झटका, ऋषभ पंत पर लगा इतने मैचों का प्रतिबंध, जानें वजह

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं…)

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments
Loading...