सलाखों के पीछे भी आस्था भारी, जेलों में गूंज रहे छठी मैया के गीत

0 24

लोक आस्था के महापर्व छठ को लेकर पूरा बिहार भक्तिमय हो गया है। गांवों की पगडंडियों से लेकर शहर की सड़कों के किनारे छठ के पारंपरिक कर्णप्रिय गीत गूंज रहे हैं। इस बीच, राज्य के जेल की सलाखों के अंदर भी आस्था भारी पड़ा है। जेलों में भी कैदी छठ पर्व कर रहे हैं, जिस कारण जेलों के अंदर भी माहौल भक्तिमय हो गया है।

ये भी पढ़ें..इस शहर में लगता है खुबसूरत ‘दुल्हनों’ का बाजार, खरीदने के लिए उमड़ती है भीड़…

Chhath Puja 2020

जेल में हिन्दू- मुस्लिम एकता की झलक भी देखने को मिल रही है। मुस्लिम कैदी भी इस पर्व में बढ़चढ़ कर ना केवल हिस्सा ले रहे हैं बल्कि कई स्थानों पर मुस्लिम कैदी छठ पर्व कर भी रहे हैं। पटना के बेउर जेल में इन दिनों छठ के पारंपरिक गीत गूंज रहे हैं। जेल में इस वर्ष 39 कैदी नियम, निष्ठा और परंपरा के साथ छठ व्रत कर रहे हैं, जिसमें 18 पुरूष और 21 महिला कैदी शामिल हैं।

जेल प्रशासन ने की तैयारी-

 छठ पूजा

बेउर के सहायक जेल अधीक्षक संजय कुमार ने बताया कि छठव्रतियों के लिए जेल परिसर में जल कुंड बनाए गए हैं, जहां व्रती शुक्रवार को अस्ताचलगामी सूर्य को अर्घ्य देंगे। उन्होंने बताया कि पूजन सामग्री के साथ प्रसाद की व्यवस्था जेल प्रशासन की ओर से उपलब्ध कराया गया है।

अस्थायी तालाब का निर्माण-

Related News
1 of 688

उधर, मोतिहारी जेल में भी छठ के गीत गाए जा रहे हैं। जेल में बंद 69 बंदियों ने जेल के अंदर विधिपूर्वक छठ पर्व के दौरान गुरुवार को खरना किया। इसमें 37 महिलाएं व 32 पुरुष बंदी शामिल हैं। जेल के अंदर अस्थायी तालाब का निर्माण कराया गया है।

छठ पर्व

मुंगेर में भी भक्तिभाव का माहौल है। यहां छह कैदी छठ व्रत कर रहे हैं जो शुक्रवार की शाम डूबते सूर्य को अर्घ्य अर्पित करेंगे। जेल (जेलों) प्रशासन द्वारा छठ व्रतियों को पूजन सामग्री सहित सभी सुविधा उपलब्ध कराई गई है।

जेल में ही भगवान भास्कर के अर्घ्य देने की व्यवस्था-

जेल परिसर स्थित तालाब की साफ सफाई कराई गई, जहां व्रतधाारियों को भगवान भास्कर के अर्घ्य देने की व्यवस्था की गई है। चार दिनों के इस पर्व की बुधवार को नहाय-खाय के साथ विधिवत शुरूआत हो गई। गुरुवार को व्रत करने वाले खीर-रोटी का भोग लगाकर खरना किया।

शुक्रवार को जेलों के अंदर अस्ताचलगामी सूर्य व शनिवार को उदीयमान भगवान भास्कर को अर्घ्य देने के बाद पारण के साथ महापर्व छठ पर्व संपन्न हो जाएगा।

ये भी पढ़ें..प्रदेश में देर रात 4 सीनियर IPS अफसरों का तबादला

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं। )

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments
Loading...
नई खबर पढ़ने के लिए अपना ईमेल रजिस्टर करे !
आप कभी भी इस सेवा को बंद कर सकते है |

 

 

शहर  चुने 

Lucknow
अन्य शहर