up By-election 2023: आजम खां का एक और किला ध्वस्त, स्वार सीट से BJP गठबंधन ने दर्ज की जीत

0 160

उत्तर प्रदेश के स्वार और छानबे में हुए उपचुनाव के बाद मतगणना जारी है। विधानसभा उपचुनाव में ताजा रूझानों के अनुसार रामपुर में सपा के दिग्गज नेता आजम खान को एक बार फिर गहरा झटका लगा है। कुछ दिनों पूर्व ही रामपुर सीट हारने के बाद अब स्वार सीट भी उनके हाथ से निकल गयी है। स्वार सीट पर भाजपा की सहयोगी अपना दल (सोनेलाल) के शफीक अहमद अंसारी ने जीत दर्ज की है। उन्होंने सपा की अनुराधा चौहान को भारी मतों से हरा दिया है।

इससे पूर्व रामपुर सीट के लिए हुए उपचुनाव में सपा उम्मीदवार आसिम रजा को हराकर भाजपा प्रत्याशी आकाश सक्सेना ने जीत हासिल की थी। आकाश सक्सेना ने सपा प्रत्याशी आसिम रजा को 33,702 वोटों से हराया था। आकाश सक्सेना को 80,964 वोट मिले थे वहीं आसिम रजा को 47,262 वोट प्राप्त मिले थे। वहीं छानबे सीट पर मुख्य विपक्षी दल समाजवादी पार्टी और भाजपा में कांटे की टक्कर चल रही है। निर्वाचन आयोग की ओर से मिली जानकारी के अनुसार, रामपुर के स्वार में अपना दल (सोनेलाल) के शफीक अहमद अंसारी सपा की अनुराधा चौहान से 7,359 मतों से आगे हैं।

ये भी पढ़ें..UP Nikay Chunav में भाजपा ने लहराया परचम, योगी के बुलडोजर ने सपा-बसपा, कांग्रेस को रौंदा

वहीं छानबे (अनुसूचित जाति) सीट पर सपा की कीर्ति कोल की अपनी निकटतम प्रतिद्वंद्वी अपना दल (सोनेलाल) की रिंकी कोल से कांटे का टक्कर है। उत्तर प्रदेश में रामपुर जिले की स्वार और मिजार्पुर जिले की छानबे (एससी) विधानसभा सीटों के लिए 10 मई को मतदान हुआ था। रामपुर की स्वार सीट सपा के पूर्व नेता आजम खान के बेटे अब्दुल्ला आजम को एक मामले में सजा सुनाये जाने के बाद उनकी सदस्यता रद्द होने के बाद खाली हुई थी। वहीं मीरजापुर की छानबे सीट भाजपा के सहयोगी अपना दल (सोनेलाल) के विधायक राहुल प्रकाश कोल के निधन की वजह से रिक्त हुई थी।

Related News
1 of 1,297

उल्लेखनीय है कि साल 2022 के विधानसभा चुनाव में स्वार सीट समाजवादी पार्टी के कब्जे में थी। सपा के दिग्गज नेता मो. आजम खां के बेटे अब्दुल्ला आजम ने यहां से जीत हासिल की थी। वहीं छानबे सीट 2022 के चुनाव में भारतीय जनता पार्टी की सहयोगी अपना दल (एस) के पास रही। चूंकि साल 2022 के विधानसभा चुनाव में इन दोनों सीटों पर भाजपा के सहयोगी अपना दल (एस) ने उम्मीदवार मैदान में उतारे थे। इसलिए उपचुनाव में भी दोनों सीटों से अपना दल (एस) के ही प्रत्याशी मैदान में हैं, लेकिन प्रतिष्ठा भाजपा की दांव पर लगी है।

भी पढ़ें..कमल बनकर अब्बास ने युवती को फंसाया, फिर रेप कर बनाया धर्मांतरण का दबाव, विरोध पर श्रद्धा की तरह टूकड़े करने की दी धमकी

ये भी पढ़ें.नम्रता मल्ला की हॉट क्लिप ने बढ़ाया सोशल मीडिया का पारा, बेली डांस कर लूट ली महफिल

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं…)

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments
Loading...