स्पीड ब्रेकर को लेकर दो पक्षों में मारपीट, एक की मौत, एसआई निलम्बित

0 8

सोनभद्र–अभी तक आपने जमीनी विवाद , रुपये को लेकर विवाद व प्रेम प्रसंग को लेकर हत्या की घटनाओं के बारे में सुना होगा लेकिन जिले में दो पक्षो के बीच सड़क पर स्पीड ब्रेकर बनाने को लेकर हुई मारपीट में एक व्यक्ति की मौत हो गई जबकि एक व्यक्ति की हालत गम्भीर बनी हुई है।

मामला करमा थाना क्षेत्र के बारीचक गांव में बाबूलाल के घरवाले अपने घर के सामने ब्रेकर बनाए थे। जिसमें सुबह गोपाल शरण ब्रेकर की वजह से अनियंत्रित होकर गिर गए घर वापस आए और घरवालों को लेकर बात करने के लिए गए कि ब्रेकर ज्यादा ऊंचा है, इसको कम कर दीजिए। तब बाबूलाल के लड़के अरविंद का अभय मौर्य ने का कालर पकड़ लिया और दोनों पक्षों में हाथापाई हुआ। फिर दोनों पक्ष अपने-अपने घर वापस चले गए। फिर बाबूलाल के घर के लोग लाठी डंडा लेकर दूसरे पक्ष के घर के सामने तक गए लेकिन उनके घर से कोई बाहर नही निकला। जिसकी वजह से वह लोग वापस चलें गए। जिसकी सूचना लोगों ने पुलिस को दी करमा पुलिस द्वारा दोनों पक्ष को थाने पर बुलाया गया था। प्राप्त जानकारी के अनुसार दोनों पक्ष से कोई भी थाने पर नही पहुंचा। यह घटना सुबह 8:00 बजे की है।

यह विवाद सामान्य बताया गया, लेकिन बुधवार शाम बाबूलाल के घर तीन लोग बिना नंबर प्लेट की गाड़ी से आए और अखिलेश के घर के चारों तरफ घूम टहल कर पहले जायजा लिया । उसके बाद बाबूलाल के घरवाले और वो लोग गेहूं के खेत में छिप कर बैठ गये और मौके का इंतजार करने लगे। अखिलेश और राकेश अपने खेत में घास काटने गये थे। जिसे देखते ही वह लोग उनको मारने के लिए दौड़ा लिए यह लोग निहत्थे थे। अपनी तरफ लाठी-डंडे लेकर आता हुआ देख बगल के घर में जा छिपे लेकिन यह लोग दरवाजा तोड़कर लाठी डंडे से बुरी तरह मारना शुरू कर दिया। जिसमें अखिलेश और राकेश बुरी तरह से घायल हो गए।

Related News
1 of 458

घर वाले घायल अवस्था में देख घबरा गए और तत्काल निजी साधन से अस्पताल लेकर भागे। जहां डॉक्टरों ने अखिलेश को मृत घोषित कर दिया और राकेश को ट्रामा सेंटर के लिए रेफर कर दिया। यह जानकारी मिलते ही परिजनों में शोक की लहर दौड़ पड़ी। जिसकी सूचना मिलने पर क्षेत्राधिकारी रामाशीष यादव व तहसीलदार विकास पांडे मौका मुआयना किया और बताया कि दुर्घटना दुर्भाग्यपूर्ण है। इस संदर्भ में दो लोगों की गिरफ्तारी भी हुई हैं जिसमें बाबूलाल और कमलेश 2 लोग गिरफ्तार हो चुके हैं शेष लोगों की तलाश जारी है।

इस मामले की गम्भीरता को देखते हुए पुलिस अधीक्षक आशीष श्रीवास्तव ने करमा थाने के दो उप निरीक्षक गंगाधर मौर्य और रामकृत राम को लापरवाही बरतने पर निलम्बित कर दिया। इसके साथ ही सम्बन्धितो के खिलाफ मुकदमा पंजीकृत करके दोषियों की धरपकड़ के लिए टीम गठित कर दिया है।

(रिपोर्ट-रविदेव पांडेय, सोनभद्र)

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments
Loading...
नई खबर पढ़ने के लिए अपना ईमेल रजिस्टर करे !
आप कभी भी इस सेवा को बंद कर सकते है |

 

 

शहर  चुने 

Lucknow
अन्य शहर