रामजन्मभूमि परिसर के शिव मंदिर में 28 साल बाद रुद्राभिषेक

0 46

अयोध्या– अयोध्या के राम जन्मभूमि परिसर में कुबेर टीले पर भगवान शशांक शेखर की आराधना की गई है. श्री मणिराम दास छावनी के उत्तराधिकारी महंत कमलनयन दास के साथ अयोध्या के प्रमुख संतों महंतों और वैदिक पंडित इस अनुष्ठान में शामिल हुए.

यह भी पढ़ें-ICC ने गेंद को चमकाने के लिए इस चीज के इस्तेमाल पर लगाई रोक

Related News
1 of 657

इस मौके पर महंत कमल नयन दास ने कहा है कि बिना महादेव की आराधना की फल की प्राप्ति नहीं होती. राम जन्मभूमि परिसर में कुबेर टीले पर विराजमान भगवान शशांक शेखर का अभिषेक बेहद महत्वपूर्ण है.धर्माचार्य और संतों की मानें तो बिना महादेव की पूजा की फल की प्राप्ति नहीं होती. कुबेर टीला पर स्थित भगवान कुबेश्वर महादेव की आराधना की गयेर है अनुष्ठान अहम माना जा रहा है.रामलला के भव्य मंदिर के लिए तैयारी पहले से ही की जा रही है.

मंदिर निर्माण के लिए L&T कंपनी ने परिसर का जायजा भी लिया है. श्री मणिराम दास छावनी के उत्तराधिकारी महंत व राम जन्मभूमि न्यास के वरिष्ठ सदस्य महंत कमल नयन दास के साथ अन्य संतों पूजन आरंभ कर दिया है. अनुष्ठान 8 बजे से शुरू होकर क़रीब 11 बजे तक चला. महादेव को 28 सालों बाद यानी 1993 में परिसर के अधिग्रहण के बाद पहली बार अभिषेक किया गया है.

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments
Loading...
नई खबर पढ़ने के लिए अपना ईमेल रजिस्टर करे !
आप कभी भी इस सेवा को बंद कर सकते है |

 

 

शहर  चुने 

Lucknow
अन्य शहर