ICC ने गेंद को चमकाने के लिए इस चीज के इस्तेमाल पर लगाई रोक

0 63

स्पोर्टस डेस्क– अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद यानी ICC ने गेंद को चमकाने के लिए लार के इस्तेमाल पर अस्थायी तौर पर रोक लगा दी। अनिल कुंबले की अध्यक्षता वाली क्रिकेट कमेटी ने लार पर बैन की सिफारिश की थी।

यह भी पढ़ें-रंग लाई सीएम योगी की मेहनत, 17 लाख मजदूरों को रोजगार देने का खाका तैयार

इसके अलावा ICC ने दो देशों के बीच होने वाली घरेलू सीरीज में घरेलूू अंपायरों को नियुक्त करने की भी मंजूरी दी है। अभी तक आईसीसी के नियमों के मुताबिक घरेलू सीरीज में न्यूट्रल अंपायरों (विदेशी) को नियुक्त किया जाता था। लेकिन कोरोना वायरस को देखते हुए इस नियम को हटा लिया गया है। अब दो देशों के बीच होने वाली सीरीज में दोनों फील्ड अंपायर घरेलू ही होंगे। इसके अलावा मैच रैफरी भी घरेलू होगा।

यह भी पढ़ें-UP शिक्षक भर्ती घोटाला: टॉपर गिरफ्तार, कई केंद्रों पर हुई परीक्षा पर मंडराया ये संकट…

Related News
1 of 214

वहीं, टेस्ट मैच में कोरोना कन्क्शन का नियम लागू होगा यानी किसी खिलाड़ी के कोरोना संक्रमित होने की सूरत में उसे रिप्लेस किया जा सकेगा। हालांकि, यह सिर्फ टेस्ट क्रिकेट में भी अमल में लाया जाएगा। वनडे और टी-20 में इसे नहीं लागू किया जाएगा।

टेस्ट में ही कोरोना सब्स्टीट्यूट का नियम लागू होगा-

कोरोना कन्कशन को लेकर इंग्लैंड एंड वेल्स क्रिकेट बोर्ड (ईसीबी) ने एक प्रस्ताव को आईसीसी ICC को भेजा था। प्रस्ताव में टेस्ट मैच के दौरान किसी खिलाड़ी के कोरोना पॉजिटिव पाए जाने पर उसकी जगह सब्स्टीट्यूट को मैदान पर उतारने की बात कही गई थी।

A cricket player shines the ball during an English county match (Getty)

खिलाड़ी के रिप्लेसमेंट का आधार एक ही होगा। अगर कोई बल्लेबाज कोरोना संक्रमित पाया जाता है तो उसकी जगह बल्लेबाज ही टीम में आएगा। गेंदबाज के मामले में भी ऐसा ही होगा।संक्रमित खिलाड़ी की जगह कौन लेगा, इसका फैसला मैच रेफरी करेगा। कोरोना सब्स्टीट्यूट का नियम इंग्लैंड-वेस्टइंडीज के बीच 8 जुलाई से शुरू होने वाली टेस्ट सीरीज में लागू हो सकता है।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments
Loading...
नई खबर पढ़ने के लिए अपना ईमेल रजिस्टर करे !
आप कभी भी इस सेवा को बंद कर सकते है |

 

 

शहर  चुने 

Lucknow
अन्य शहर