टोक्यो पैरालंपिक में भारत पर हुई सोने-चांदी की बारिश, 5 स्वर्ण समेत जीते कुल 19 मेडल

0 70

टोक्यो पैरालंपिक इस बार भारत पर जमकर सोने-चांदी की बारिश हुई.पैरा भारतीय खिलाड़ियों ने ऐतिहासिक प्रदर्शन करते हुए भारत की झोेली में 19 पदक डाल दिए. भारत 5 गोल्ड, 8 रजत और 6 कांस्य पदक जीतकर 24वां स्थान रहा.

ये भी पढ़ें..पंजशीर घाटी में खूनी खेल, 600 तालिबानियों की मौत, 1000 से ज्यादा ने टेके घुटने

रियो पैरालंपिक 20216 में जीते थे सिर्फ 4 पदक

भारतीय खिलाड़ियों ने इस दौरान एथलेटिक्स में सबसे ज्यादा आठ, शूटिंग में पांच, बैडमिंटन में चार, टेबल टेनिस और तीरंदाजी में एक-एक मेडल जीते. पैरालंपिक खेलों के इतिहास में पहली बार ऐसा हुआ है, जब भारत की पदक संख्या दोहरे अंकों में पहुंची है. इससे पहले भारत का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन 2016 के रियो पैरालंपिक में रहा था, जहां उसने 2 स्वर्ण समेत 4 पदक जीते थे.

भारत के पास अब तक जीते 31 मेडल

Related News
1 of 973

गौरतलब है कि पैरालंपिक खेलों की शुरुआत 1960 में हो गई थी, लेकिन भारत ने तेल अवीव पैरालंपिक (1968) में पहली बार भाग लिया था.1984 के पैरालंपिक से भारत इन खेलों में लगातार भाग लेता आया है. भारत ने टोक्यो से पहले 11 पैरालंपिक खेलों में हिस्सा लिया था, जिस दौरान भारतीय खिलाडियों ने चार स्वर्ण समेत कुल 12 पदक जीते थे.

अब टोक्यो ओलंपिक में जीते गए 19 पदकों को मिलाकर यह संख्या 31 तक पहुंच गई है. इस दौरान भारतीय पैरा एथलीटों ने 9 स्वर्ण, 12 रजत और 10 कांस्य पदक अपने नाम किए हैं. सबसे खास बात यह है कि इनमें से 18 पदक भारतीय खिलाड़ियों ने एथलेटिक्स इवेंट्स में जीते हैं.

ये भी पढ़ें..14 साल की नौकरानी से मालकिन की दरिंदगी, मेहमानों से जबरन बनवाती थी संबंध, प्रेग्नेंट होने पर खुला राज…

ये भी पढ़ें..पॉर्न फिल्में देख छोटे भाई से संबंध बनाने लगी 9वीं की छात्रा, प्रेग्नेंट होने पर खुला राज, सदमे में परिजन…

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं…)

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments
Loading...
नई खबर पढ़ने के लिए अपना ईमेल रजिस्टर करे !
आप कभी भी इस सेवा को बंद कर सकते है |

 

 

शहर  चुने 

Lucknow
अन्य शहर