औरैयाः बिना कोचिंग के टॉपर्स उत्कर्ष ने ऐसे पाया प्रदेश में तीसरा स्थान

औरैया के छात्र उत्कर्ष शुक्ला ने 94.80% अंक पाकर प्रदेश में तीसरा स्थान पाया

0 19

औरैयाः कहते हैं कि सफलता किसी की राह नहीं देखती और जो लोग मेहनत कश होते हैं सफलता उनके कदमों को स्वयं ही चूम लेती है। ऐसा ही कुछ जनपद औरैया में आज देखने को मिला जिसमें एक छात्र ( उत्कर्ष) द्वारा बिना किसी प्रकार की कोचिंग लिए प्रदेश में इंटरमीडिएट की परीक्षा में तीसरा स्थान प्राप्त कर लिया।

ये भी पढ़ें..डिप्टी CM ने यूपी बोर्ड टॉपर्स के लिए किया बड़ा ऐलान, देंगे ये तोहफा

बता दें कि शनिवार को यूपी के डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा ने यूपी बोर्ड हाई स्कूल एवं इंटरमीडिएट के परीक्षा परिणाम की घोषणा की। जिसमें इंटरमीडिएट के जनपद औरैया के छात्र उत्कर्ष शुक्ला पुत्र संदीप शुक्ला निवासी ब्रह्म नगर ने 94.80% अंक पाकर प्रदेश में तीसरा स्थान पाकर जनपद का नाम रोशन कर दिया। उत्कर्ष ने बताया कि उन्होंने बिना किसी भी प्रकार का कोचिंग लिए यह सफलता हासिल की है। इसका श्रेय उन्होंने विद्यालय के गुरुजनों एवं अपने परिजनों को दिया है।

गुरुजानों व परिवार वालो को दिया श्रेय..

उत्कर्ष पहले से ही होनहार था और उसने हाईस्कूल की परीक्षा में 91.58% अंक पाकर जिले में प्रथम स्थान पाया था। उत्कर्ष के पिता संदीप शुक्ला जूनियर हाई स्कूल गंगदासपुर कानपुर देहात में प्रधानाचार्य पद पर तैनात हैं जबकि मां सुषमा ग्रहणी है। उनकी दादी सरोज शुक्ला गंगाराम इंटर कॉलेज में शिक्षक पद से सेवानिवृत्त हुई हैं जबकि उत्कर्ष का भाई आदर्श शुक्ला देहरादून के एक कालेज से बीटेक कर रहा है।

Related News
1 of 372

उत्कर्ष की पूरी फैमिली पढ़ी लिखी है। उत्कर्ष ने विद्यालय पहुंचकर अपनी सफलता का श्रेय गुरुजनों एवं परिवार के सदस्यों को दिया। उन्होंने कहा कि जब वह पढ़ाई करते थे तो पिता द्वारा कहा गया कि किसी भी प्रकार की कोचिंग कर ले तो उसने मना कर दिया कि वह स्वयं ही पढ़ कर अपनी तैयारी कर सकता है। इसलिए वह कोचिंग नहीं करेगा।

आईएएस बनना चाहता है होनहार छात्र उत्कर्ष

इस संबंध में जब उत्कर्ष से बात की गई तो उसने बताया कि उसका सपना आईएएस बनने का है और वह देश की सेवा करना चाहता है। कहा कि जब आईएएस बनकर किसी जिले का अधिकारी होगा तो वह वहां पर पूरी तरह से भ्रष्टाचार मुक्त कर देगा। अपनी इस सफलता पर वह खुशी से फूला नहीं समा रहा था।

उत्कर्ष के पिता संदीप शुक्ला एवं मां सुषमा शुक्ला ने खुशी व्यक्त करते हुए अपने पुत्र को बधाई दी और कहा कि यह भगवान द्वारा दी गई एक अच्छी नेमत है जो उन्हें उत्कर्ष के रूप में मिली है। उन्होंने अपने पुत्र की इस सफलता पर विद्यालय प्रबंधन व शुभचिंतकों को बधाई दी है।

ये भी पढ़ें..यूपी बोर्ड के नतीजे घोषित,10वीं में 83.31 तो 12वीं में 74.63 फीसदी छात्र पास

(रिपोर्टर- वरुण गुप्ता, औरैया)

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments
Loading...
नई खबर पढ़ने के लिए अपना ईमेल रजिस्टर करे !
आप कभी भी इस सेवा को बंद कर सकते है |

 

 

शहर  चुने 

Lucknow
अन्य शहर