तस्वीरों में देखें दिल्ली अग्निकांड का खौफनाक मंजर, सुनाई दे रही थी बचाओ-बचाओ की चीखें

0 100

नई दिल्ली–दिल्ली के रानी झांसी रोड स्थित अनाज मंडी में रविवार की सुबह काल बनकर आई और कुछ ही सेकेंडों में कई परिवारों की हंसती खेलती जिंदगी तबाह हो गई।

घनी आबादी वाले इस इलाके को जैसे ही आग ने अपनी चपेट में लिया तो लोग अपनी जान बचाने के लिए इधर उधार भागने लगे। हालांकि इन संकरी गलियों में धुआं इतना गहरा गया कि दम घुटने से एक के बाद एक 43 लोगों की मौत हो गई।

सुबह आग लगने की घटना में 43 लोग मारे गए और 50 से अधिक घायल हो गए

Related News
1 of 539

फैक्ट्रियों के आपस में जुड़ी होने के कारण आग तेजी से फैलती रही। तुरंत दमकल की 30 गाड़ियों को घटनास्थल पर भेजा गया लेकिन इस इलाके की गलियों के संकरी होने के कारण फ़ायर ब्रिगेड की गाड़ी या एंबुलेंस अंदर तक नहीं जा सकी और बचावकर्मी घायलों को अपने कंधों पर उठाकर बाहर लेकर आए।

दिल्ली की अनाज मंडी में आग लगने पर घटना स्थल पर घायलों को ले जाने के लिए एंबुलेंस व दमकल गाड़ियां 

कमरों के अंदर से बचाओ-बचाओ की चीखें आ रही थीं। जब कमरों के दरवाजे खोले गए तो कुछ लोग अंदर से निकल सके।

फैक्ट्री में काम कर रहे लोगों के रिश्तेदार और स्थानीय लोग घटनास्थल की ओर भाग रहे थे।

 

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments
Loading...
नई खबर पढ़ने के लिए अपना ईमेल रजिस्टर करे !
आप कभी भी इस सेवा को बंद कर सकते है |

 

 

शहर  चुने 

Lucknow
अन्य शहर