ब्रेकिंग न्यूज़

शिमला-- विधानसभा चुनावों के लिए अगले दो दिन हिमाचल में चुनावी माहौल पूरी तरह से गरमाया रहेगा। पीएम मोदी दो दिन में पांच चुनावी रैलियां करेंगे। वे शनिवार को रैत और सुंदरनगर में रैलियां करेंगे।

न्यूज़ डेस्क -- हिमाचल प्रदेश के विधानसभा चुनाव से ठीक पहले भारत में रह रहे करीब एक हजार तिब्बती लोगों ने वोट देने के लिए चुनाव आयोग के समक्ष पंजीकृत कराया है। उनके इस कदम से 'फ्री तिब्बत' की मुहिम चला रहे तिब्बती समुदाय के कुछ लोग चिंतित हैं। 

शिमला -- हिमाचल चुनाव के लेकर पीएम मोदी ताबडतोड़ तूफानी चुनावी दौरे के तहत गुरुवार को हिमाचल प्रदेश के कांगड़ा  पहुंचे.वहीं इस चुनावी रैली को संबोधित करते हुए कांग्रेस और सीएम वीरभद्र पर जमकर निशाना साधा. पीएम ने हमला करते हुई कहा कि 'कांग्रेस कह रही है कि सरकार बनेगी तो करप्‍शन पर जीरो टॉलरेंस होगा. यह किसी के गले उतरता है क्‍या? कांग्रेस के सीएम वीरभद्र सिंह जमानत पर हैं, उन पर गंभीर आरोप हैं'.

गांधीनगर-- गुजरात विधानसभा चुनाव के लिए बीजेपी के प्रभारी अरुण जेटली और पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह आज गुजरात में होंगे। जेटली जहां अहमदाबाद में एक दिन के दौरे पर चुनावी रणनीति, घोषणापत्र को लेकर मीटिंग करेंगे, वहीं शाह 5 दिन तक प्रदेश में दौरा करेंगे। आज से इसकी शुरुआत वे कच्छ जिले के गांधीधाम से करेंगे।

नई दिल्ली-- बीजेपी हिमाचल प्रदेश में भी बगैर सीएम का चेहरा घोषित किए चुनाव लड़ना चाहती थी। दरअसल बिना चेहरे के चुनाव लड़ना उसकी रणनीति का हिस्सा बन गया है। यूपी, महाराष्ट्र, हरियाणा, उत्तराखंड जैसे कई राज्यों में उसे इसके जरिए कामयाबी मिल चुकी है। लेकिन राजनीतिक गलियारों में यह सवाल अहम हो गया है कि अचानक ऐसा क्या हुआ कि मतदान से महज नौ दिन पहले बीजेपी को हिमाचल प्रदेश में प्रेमकुमार धूमल को मुख्यमंत्री पद का उम्मीदवार घोषित करना पड़ा।

राजकोट-- पूर्व केंद्रीय वित्त मंत्री और बीजेपी के वरिष्ठ नेता यशवंत सिन्हा 14 नवंबर से तीन दिन तक गुजरात दौरे पर रहेंगे। उनका यह दौरा एनजीओ "लोकशाही बचाओ अभियान" के तहत आयोजित किया जा रहा है जो कांग्रेस समर्थित एनजीओ है। इस लिहाज से उनके इस दौरे को नोटबंदी और वर्तमान आर्थिक परिदृश्य पर यशवंत सिन्हा के बीजेपी विरोधी बयान के बाद से कांग्रेस के लिए लाभदायक माना जा रहा है।

इससे पहले भी कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी. चिदंबरम भी जीएसटी पर राजकोट के व्यापारियों से बात कर चुके हैं। वहीं सिन्हा भी इस दौरे के दौरान राजकोट, अहमदाबाद और सूरत के व्यापारियों बातचीत करेंगे। एक वरिष्ठ कांग्रेस नेता ने बताया, पी चिदंबरम की तरह ही यशवंत सिन्हा का यह दौरा भी कांग्रेस के बैनर तले नहीं होगा। जब सिन्हा और चिदंबरम जैसे लोग नॉन पॉलिटिकल प्लेटफॉर्म पर बोलते हैं तो यह उनके विचारों को दर्शाता है। गौरतलब है कि 182 सदस्यीय विधानसभा के लिए गुजरात में दो चरणों में चुनाव होने हैं। 9 दिसंबर को पहले चरण की वोटिंग होनी है। 14 दिसंबर को दूसरे और अंतिम दौर की वोटिंग होगी। मतगणना 18 दिसंबर को होगी। 

नई दिल्ली--उत्तर प्रदेश में निकाय चुनाव और गुजरात विधानसभा चुनाव नजदीक हैं और सियासी गलियारों में हलचल देखने को मिल रही है। राजधानी में आम आदमी पार्टी की 5वीं राष्ट्रीय परिषद की बैठक जारी है।

नई दिल्ली-- भाजपा में रहकर भी अक्सर भाजपा से जुदा राय रखने वाले शॉटगन शत्रुघ्न सिन्हा ने एक बार फिर कड़ा रुख अपनाते हुए प्रधानमंत्री मोदी पर निशाना साधा है। सिन्हा ने ट्वीट्स करके प्रधानमंत्री मोदी पर हमला बोला।उन्होंने प्रधानमंत्री मोदी द्वारा दीपावली मिलन के दौरान दिए गए उनके भाषण के एक अंश को लेकर हमला बोलते हुए कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अभी तक क्या प्रयास किए हैं यह जानने के लिए कि उनके कुछ नेताओं के विचार भिन्न क्यों हैं? उन्होंने कहा, ‘पीएम मोदी ने दिवाली मिलन में कहा था कि उनके कुछ लोगों के विचार अलग हैं। मैं विनम्रता से यह पूछना चाहता हूं कि क्या कभी किसी ने ये जानने की कोशिश की है कि ऐसा क्यों है। क्यों कुछ नेताओं के विचार अलग हैं।’