ब्रेकिंग न्यूज़

देश की पहली महिला वित्त मंत्री बनीं निर्मला सीतारमण

आधी आबादी
Typography

न्यूज डेस्क--नरेंद्र मोदी के मंत्रिमंडल में मंत्रालयों का वितरण किया गया है। प्रधानमंत्री मोदी ने अपने मंत्रिमंडल बनाने के लिए कुछ चौंकाने वाले निर्णय लिए। सरकार का सबसे महत्वपूर्ण मंत्रालय माना जाने वाला वित्त मंत्रालय पहली बार एक महिला मंत्री के हाथों में सौंपा गया है। 

न्यूज डेस्क--नरेंद्र मोदी के मंत्रिमंडल में मंत्रालयों का वितरण किया गया है। प्रधानमंत्री मोदी ने अपने मंत्रिमंडल बनाने के लिए कुछ चौंकाने वाले निर्णय लिए। सरकार का सबसे महत्वपूर्ण मंत्रालय माना जाने वाला वित्त मंत्रालय पहली बार एक महिला मंत्री के हाथों में सौंपा गया है। 

निर्मला सीतारमण को देश की पहली महिला वित्त मंत्री बनने का सौभाग्य प्राप्त हुआ है। मोदी सरकार के पिछले कार्यकाल में निर्मला सीतारमन देश की पहली महिला रक्षा मंत्री बनीं थी। हालांकि इंदिरा गांधी प्रधानमंत्री थी तब उन्होने थोड़े समय के लिए वित्त मंत्रालय और रक्षा मंत्रालय को अपने पास रखा था, लेकिन वित्त मंत्रालय अब पूर्णकालिक निर्मला सीतारमण के साथ रहेगा। वित्त मंत्रालय के अलावा, उन्हें कॉर्पोरेट मामलों का मंत्रालय भी सौंपा गया है। आपको बता दें कि निर्मला सीतारमण के पिता भारतीय रेलवे में कार्यरत थे और जिस कारण उनका बचपन अलग-अलग शहरों में बीता। उन्होंने जेएनयू से एमए इकोनॉमिक्स की डिग्री प्राप्त की और फिर यहीं से एमफिल किया। उनकी शादी डॉक्टर पराकाला प्रभाकर से हुई। दोनों की मुलाकात जेएनयू में ही हुई थी।

डॉक्टर प्रभाकर ने लंदन स्कूल ऑफ इकोनॉमिक्स से पीएचडी पूरी की और निर्मला सीतारमण उन्हीं के साथ लंदन में रहने लगीं। इस दौरान निर्मला सीतारमण ने लंदन के एक होम स्टोर में बतौर सेल्सगर्ल भी काम किया।बीजेपी में शामिल होने से पहले निर्मला वर्ष 2003 से 2005 तक नेशनल कमीशन फॉर वुमन यानि कि NCW की सदस्य रही थीं। उन्होंने बीजेपी की प्रवक्ता के रूप में बेहतरीन काम किया और अक्सर टीवी चैनलों पर पार्टी के लिए वो खड़ी नजर आईं।

Pin It