ब्रेकिंग न्यूज़

प्रतापगढ़-- मिसेज इंडिया गैलेक्सी 1st रनर अप रही पूनम सिंह पहुची अपने पैतृक गांव तो घर पर जश्न का माहौल नजर आया। अपने घर परिवार की बेटी की झलक पाने, बधाई देने और साथ मे फोटो खिंचवाने की होड़ लगी रही।

बाराबंकी -- बच्चों को पढ़ाने के लिए न जाने मा बाप क्या -क्या नहीं करते की उनके बच्चे पढ़ लिखकर आगे उनका नाम रोशन करे ,लेकिन उनमें से बहुत ही कम ऐसे भी बच्चे होते है जो अपने माँ बाप के लिए क्या क्या नहीं करते।

छत्तीसगढ़--जब एक पिता अपनी बेटी को खुद से विदा करता है तब दोनों तरफ से सिर्फ आंसू ही बहते हैं। बिलासपुर केंद्रीय जेल में ऐसा ही नजारा देखने को मिला। जेल में बंद एक सजायफ्ता कैदी अपनी 6 साल की बेटी खुशी( बदला हुआ नाम) से लिपटकर खूब रोया। 

फर्रुखाबाद--फर्रुखाबाद जिले में एक ऐसा युवा है जो कि हाथों से पूर्ण रूप से विकलांग होने के बावजूद जज बनने के लिए पढ़ाई कर रहा है।हैदर ने अपने माता पिता व बड़ी बहन की हौसलाफजाई के बाद हाथ खराब होने की वजह से पैरों से लिखना पढ़ना शुरू किया। 

बरेली -- खाकी में मनचलों और बदमाशों को सबक सिखाने वाली बरेली की महिला सिपाही पूजा सक्सेना ने कई प्रतिभागियों को हराकर ''मिसेज भारत'' का खिताब अपने नाम कर लिया है.

कानपुर--रंगो की अपनी ही एक अनोखी दुनियाँ होती है जिसकी भाषा मोहित सिंह रंग और रेखाओं के जरिये से दिलों में उतार देते है। आज के बदलते परिवेश में कला ने अपना रंग खो दिया है, विलुप्त होती चित्रकारों की कला को आधुनिकीकरण से सँवार रहा है आर्टिस्ट मोहित सिंह।

बदायूं -- अगर इंसान के अंदर कुछ हासिल करने की इच्छा हो तो पूरी मेहनत और लगन से उसे प्राप्त किया जा सकता है इस कहावत को सच्चा कर दिखाया है

कानपुर--आपको एक ऐसे लीडर के बारे में बताने जा रहे हैं, जो कि 7 बार एमएलए रहा, लेकिन खुद का घर न बनवा सका। यूपी की सियासत में सात बार एमएलए रहे इस शख्स की कहानी आपको हैरान कर देगी।

प्रतापगढ़ -- यदि दिल में अरमान हो और कुछ कर गुजरने का जज्बा हो तो बिना पैर के भी पहाड़ चढ़ा जा सकता है।इसी कहावत को चरितार्थ कर रही है प्रतापगढ़ जिले की खुशबू जो दोनो हाथो से विकलंग है।

More Articles ...