नये DGP की रेस में IPS मोहन लाल लाठर सबसे आगे, ये है खास वजह

मोहन लाल लाठर के जारिए जाट वोट बैंक साधने की कोशिश में सरकार...

0 643

पुलिस महानिदेशक भूपेंद्र सिंह यादव के इस्तीफे के बाद अब पुलिस महकमे के नये मुखिया की तलाश तेज हो गई है. इसके लिये संभावित 10 नामों में से 1987 बैच के तेज तर्रर आईपीएस अधिकारी मोहन लाल लाठर का नाम सबसे आगे है.

ये भी पढ़ें..बड़ी खबरः NDA से बाहर हो सकती है LJP, चिराग को 25 से अधिक सीटें नहीं देगी बीजेपी !

लाठर के जारिए जाट वोट बैंक साधने की कोशिश में सरकार

बता दें कि राजस्थान के वर्तमान पुलिस महानिदेशक भूपेन्द्र सिंह यादव ने दो सप्ताह पहले ही मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को इस्तीफा भेज दिया था. वे अब केवल एक सप्ताह यानी 30 सितंबर तक ही प्रदेश पुलिस का मुखिया रहेंगे.

वहीं नए डीजीपी की दौड़ में IPS मोहन लाल लाठर सबसे आगे हैं.लाठर के दौड़ में आगे होने का कारण उनकी वरिष्ठता के साथ-साथ एक बड़ी वजह प्रदेश के बड़े जाट वोट बैंक को खुश करना भी है. प्रदेश की अशोक गहलोत सरकार इसके जरिये जाट वोट बैंक को साधने की भी कोशिश करेगी.

मापदंडों के आधार हो डीजीपी का चयन
Related News
1 of 660

दरअसल नये पुलिस महानिदेशक की नियुक्ति संघ लोक सेवा आयोग के जरिये पूरी होगी. इसके लिये राज्य सरकार को नियमानुसार 30 साल की सेवा वाले ऐसे 10 वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों की सूची यूपीएससी को भेजनी होगी, जिनकी सर्विस अभी कम से कम छह माह शेष हो. यूपीएससी उन नामों पर चर्चा कर मापदंडों के आधार तीन का चयन करके इस पैनल को वापस राज्य सरकार को भेजेगी.जिसके बाद सीएम किसी एक का नाम फाइनल करेंगे.

वरिष्ठता की रेप में ये आईपीएस सबसे आगे

1987 बैच – राजीव दासोत और मोहन लाल लाठर
1988 बैच – भगवान लाल सोनी और उत्कल रंजन साहू
1989 बैच – उमेश मिश्रा, नीना सिंह और राजीव शर्मा
1990 बैच – राजीव शर्मा, श्रीनिवास राव जंगा और रवि प्रकाश मेहरड़ा

ये भी पढ़ें..DGP की कुर्सी छोड़ने वाले IPS गुप्तेश्वर पांडेय इस सीट लड़ सकते है चुनाव !

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं। )

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments
Loading...
नई खबर पढ़ने के लिए अपना ईमेल रजिस्टर करे !
आप कभी भी इस सेवा को बंद कर सकते है |

 

 

शहर  चुने 

Lucknow
अन्य शहर