पंजाब कैबिनेट विस्तार: नए मंत्रियों की लिस्ट आई सामने, कैप्टन के 5 करीबियों की छुट्‌टी

0 60
पंजाब सरकार में कैबिनेट विस्तार का ऐलान कर दिया गया है। पंजाब कैबिनेट के नए मंत्रियों की लिस्ट भी फाइनल हो गई है। इस लिस्ट में पूर्व सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह के 5 करीबी मंत्रियों की छुट्टी कर दी गई है। जबकि 8 मंत्रियों की वापसी हुई है। वहीं, नई कैबिनेट में 7 नए मंत्री शामिल किए जाएंगे।

उधर मंत्रियों की लिस्ट फाइनल करने के बाद राहुल गांधी शिमला वापस लौट गए। राहुल बैठक करने शिमला से दिल्ली आए थे। वहीं बैठक के बाद पंजाब लौटे मुख्यमंत्री चरणजीत चन्नी ने गवर्नर बीएल पुरोहित से मुलाकात की। अब कल यानी रविवार शाम काे 4.30 बजे सभी मंत्रियों का शपथग्रहण होगा।

ये भी पढ़ें..जानें कौन हैं वो यंग लेडी ऑफिसर, जिसने पाकिस्तानी पीएम को लगाई लताड़

7 नए चेहरों को मिली मंत्रिमंडल में जगह

जिन नए मंत्रियों को मौका दिया गया है उनमें राजकुमार वेरका, परगट सिंह, संगत गिलजियां, गुरकीरत कोटली, कुलजीत नागरा, राणा गुरजीत और अमरिंदर सिंह राजा वड़िंग शामिल हैं। राजकुमार वेरका कैप्टन के करीबी रहे लेकिन मंत्री नहीं बनाए गए। अमृतसर से विधायक वेरका अनुसूचित जाति के बड़े नेता हैं। परगट सिंह सिद्धू के करीबी हैं। वे कैप्टन पर लगातार हमला बोलते रहे। उनका खेल मंत्री बनना तय है।

इनकी होगी मंत्रिमंडल में वापसी

बता दें कि जिन मंत्रियों को दोबारा मौका मिल सकता है उनमें सुखजिंदर रंधावा (उपमुख्यमंत्री), ओपी सोनी (उपमुख्यमंत्री), मनप्रीत सिंह बादल, ब्रह्म मोहिन्द्रा, त्रिपत राजिंदर सिंह बाजवा, रजिया सुल्ताना, सुखबिंदर सिंह सरकारिया, भारत भूषण आशु, अरुणा चौधरी और विजय इंदर सिंगला का नाम शामिल है। खबरों की माने तो मनप्रीत बादल ने चन्नी के नाम पर कांग्रेस हाईकमान को राजी करने में अहम भूमिका निभाई थी। जबकि विजयेंद्र सिंगला के शिक्षा मंत्री रहने के समय ही पंजाब स्कूलों में नंबर वन आया था।

Related News
1 of 468

इन 5 करीबी मंत्रियों की छुट्‌टी

कैप्टन की कैबिनेट से साधु सिंह धर्मसोत, बलवीर सिद्धू, राणा गुरमीत सोढ़ी, गुरप्रीत कांगड़ और सुंदर शाम अरोड़ा को नई कैबिनेट में जगह नहीं मिली है। इनमें साधु सिंह धर्मसोत पर पोस्टमैट्रिक घोटाले के आरोप लगे थे। राणा सोढ़ी ने सिद्धू खेमे की बगावत के बाद कैप्टन के शक्ति प्रदर्शन के लिए डिनर करवाया था। कांगड़ पर हाल ही में दामाद को सरकारी नौकरी दिलवाने के बाद हमले हो रहे थे। उनके लिए सुनील जाखड़ ने भी लॉबिंग की थी, लेकिन काम नहीं आई। सुंदर शाम अरोड़ा भी कैप्टन के करीबी हैं और उन पर भी कुछ वक्त पहले जमीन से जुड़े कुछ आरोप लगे थे।

गौरतलब है कि पंजाब में कैबिनेट को लेकर गुरुवार को पंजाब में कैबिनेट को लेकर राहुल गांधी के घर रात 10 बजे से 2 बजे तक मंथन चला था। इस हाईलेवल मीटिंग में राहुल गांधी के अलावा प्रियंका गांधी, पंजाब कांग्रेस प्रभारी हरीश रावत, केसी वेणुगोपाल और मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी मौजूद थे। पंजाब कैबिनेट के विस्तार को लेकर कांग्रेस हाईकमान कंफ्यूज है। 3 बार बैठक के बाद भी मंत्रियों की लिस्ट फाइनल नहीं हो सकी।

ये भी पढ़ें..14 साल की नौकरानी से मालकिन की दरिंदगी, मेहमानों से जबरन बनवाती थी संबंध, प्रेग्नेंट होने पर खुला राज…

ये भी पढ़ें..पॉर्न फिल्में देख छोटे भाई से संबंध बनाने लगी 9वीं की छात्रा, प्रेग्नेंट होने पर खुला राज, सदमे में परिजन…

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं…)

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments
Loading...
नई खबर पढ़ने के लिए अपना ईमेल रजिस्टर करे !
आप कभी भी इस सेवा को बंद कर सकते है |

 

 

शहर  चुने 

Lucknow
अन्य शहर