कमिश्नर की बड़ी कार्रवाई, महिला थानेदार समेत चौकी इंचार्ज को किया सस्पेंड…

0 237

वाराणसी के पुलिस कमिश्नर (Commissioner) ए सतीश गणेश ने बड़ी कार्यवाई करते हुए एकलौती महिला थानेदार समेत चौकी इंचार्ज सस्पेंड कर दिया है.दरअसल दो अलग-अलग मामलों को लेकर पुलिस के चाल, चरित्र और चेहरे पर उठ रहे सवालों पर यह एक्शन लिया गया.

ये भी पढ़ें..बीच सड़क पर रईसजादी ने दारोगा से की हाथापाई, हाई वोल्टेज ड्रामा के बाद गिरफ्तार

बता दें कि पहला मामला जमीन पर कब्जा कराने के आरोप को लेकर है, तो दूसरा पीएम नरेंद्र मोदी के हाथों सम्मानित स्वच्छता दूत के साथ बदतमीजी से जुड़ा है.

जमीन पर कब्जा कराने का आरोप 

दरअसल पहला मामला चेतगंज थाने से जुड़ा हुआ है, जिसमें जमीन पर कब्जा कराने के आरोप पर जांच कराने के बाद वाराणसी के पुलिस कमिश्नर (Commissioner) ने जिले की एकमात्र महिला एसएचओ संध्या सिंह को सस्पेंड कर दिया है. वहीं, लहुराबीर चौकी इंचार्ज अमित सिंह को भी सस्पेंड किया गया है, जबकि इसी मामले में चेतगंज थाने के सीनियर सब इंस्पेक्टर ओमप्रकाश सिंह को लाइन हाजिर किया गया.

बताया जा रहा है कि मामला वाराणसी के पिशाच मोचन का है, जहां के निवासी मुकेश साहू ने शिकायत की थी कि उन्होंने पिशाच मोचन में करीब 70 लाख की जमीन का पट्टा कराया था. आरोप है कि थाना इंचार्ज संध्या सिंह और लहुराबीर चौकी इंचार्ज अमित सिंह दूसरी पार्टी के साथ मिलकर जमीन पर कब्जा करा रहे थे.

इस मामले में जब मुकेश साहू ने 112 नंबर पर शिकायत की तो मौके पर पहुंची पुलिस को भी थानेदार संध्या सिंह ने हड़काकर वहां से भगा दिया. यही नहीं मुकेश साहू के पैसे से बना गेट दूसरी पार्टी के कहने पर जमीन पर लगवा कर कब्जा करा दिया. इस मामले में एसएसआई ओमप्रकाश सिंह को भी थानाध्यक्ष संध्या सिंह कि इस गलती का खामियाजा भुगतना पड़ा. ओमप्रकाश सिंह पर भी आरोप है कि उन्होंने भी पीड़ित की बात सुनना तो दूर उल्टे उसी को घंटों थाने में बैठाए रखा था.

Related News
1 of 641

केवट के साथ चौकी इंचार्ज ने की बदतमीजी

दूसरा मामला पीएम नरेंद्र मोदी के हाथों सम्मानित हो चुके स्वच्छता दूत मंगल केवट का है. मंगल केवट के साथ बेवजह काल भैरव चौकी इंचार्ज सुरेंद्र यादव ने बदतमीजी की थी. जिसके बाद मंगल केवट ने कमिश्नर (Commissioner) को शिकायत की थी और डिप्टी सीएम केशव मौर्य के सामने मीडिया ने भी सवाल उठाया था. इसके बाद एसीपी कोतवाली ने मामले की जांच की. जांच के बाद कमिश्नर ए सतीश गणेश ने काल भैरव चौकी इंचार्ज सुरेंद्र यादव को लाइन हाजिर कर दिया.

बता दें कि पीएम के गोद लिए गांव के रहने वाले मंगल केवट की गंगा के प्रति निष्ठा देखकर पीएम मोदी उनसे मिले थे और उनको सम्मानित भी किया था. यही नहीं पीएम ने बेटी की शादी में शुभकामना संदेश भी दिया था.

ये भी पढ़ें..14 साल की नौकरानी से मालकिन की दरिंदगी, मेहमानों से जबरन बनवाती थी संबंध, प्रेग्नेंट होने पर खुला राज…

ये भी पढ़ें..पॉर्न फिल्में देख छोटे भाई से संबंध बनाने लगी 9वीं की छात्रा, प्रेग्नेंट होने पर खुला राज, सदमे में परिजन…

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं…)

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments
Loading...
नई खबर पढ़ने के लिए अपना ईमेल रजिस्टर करे !
आप कभी भी इस सेवा को बंद कर सकते है |

 

 

शहर  चुने 

Lucknow
अन्य शहर