सुरंग के जरिए अमरनाथ यात्रा पर बड़े हमले की तैयारी में थे आतंकी, BSF ने नापाक साजिश की नाकाम

0 60

अंतरराष्ट्रीय सीमा पर सांबा जिले में बुधवार को खोजी गई सुरंग अमरनाथ तीर्थयात्रा को बाधित करने के लिए पाकिस्तान की तरफ से खोदी गई थी। इस सुरंग का पता लगाकर सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) जवानों ने आतंकियों की बड़ी साजिश को नाकाम बनाया है। सीमा सुरक्षाबल, जम्मू फ्रंटियर के महानिरीक्षक डीके बूरा ने गुरुवार को बताया कि अंतरराष्ट्रीय सीमा से 150 मीटर दूर चक फकीरा के अग्रिम हिस्से पर भारतीय सीमा के भीतर सीमा सुरक्षाबल के जवानों ने बुधवार की शाम को एक सुरंग का पता लगाया था। यह सुरंग पाकिस्तान की तरफ से खोदी गई थी। उन्होंने कहा कि 22 अप्रैल को जम्मू के निकट मारे गए जैश-ए-मोहम्मद के दोनों आतंकियों के इसी सुरंग से दाखिल होने का कोई सबूत नहीं मिला है।

ये भी पढ़ें..आज होगा इन दो टीमों के बीच करो या मरो का मुकाबला, दोनों टीमों ने अपने प्लेइंग इलेवन में किया बदलाव

डीजीपी ने कहा कि इस सुरंग का पता लगाकर हमारे सतर्क बीएसएफ जवानों ने अमरनाथ तीर्थयात्रा को नुकसान पहुंचाने की पाकिस्तानी साजिश को नाकाम बनाया है। उन्होंने बताया कि इस क्षेत्र में सुरंग का पता लगाने के लिए सीमा सुरक्षाबल ने 22 अप्रैल को जम्मू के निकट जलालाबाद सुंजवां में जैश-ए-मोहम्मद के दो आतंकियों के मारे जाने के बाद से ही अभियान चला रखा था। यह सुरंग हाल में ही बनाई गई है। अंतरराष्ट्रीय सीमा के पार पाकिस्तानी इलाके से शुरू होने वाली इस सुरंग का दूसरा हिस्सा सांबा जिले के चक फकीरा में खुलता है जिसका मुहाना लगभग दो फुट चौड़ा है। सुरंग के भीतर कुछ दूरी तक हमारे जवान गए हैं। सुरंग के भीतर से रेत की 21 बोरियां मिली हैं, जिनका इस्तेमाल सुरंग से बाहर निकलने के रास्ते को मजबूती देने के लिए किया गया था।

surang-jammu

Related News
1 of 898

डेढ़ साल में 5वीं सुरंग

बता दें कि डेढ़ वर्ष के दौरान अंतरराष्ट्रीय सीमा पर खोजी गई यह पांचवीं सुरंग है। वर्ष 2012 से अब तक बीएसएफ के जवान अंतरराष्ट्रीय सीमा पर 11 सुरंगों का पता लगा चुके हैं। यह सुरंग हमारे देश में विशेषकर जम्मू और कश्मीर में हालात बिगाड़ने की पाकिस्तानी साजिशों को उजागर करती है। यह सुरंग मिलने के बाद हमने अंतरराष्ट्रीय सीमा पर चौकसी बढ़ा दी है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के जम्मू दौरे से दो दिन पहले जम्मू के बाहरी क्षेत्र जलालाबाद, सुंजवां में मारे गए जैश-ए-मोहम्मद के आतंकियों के इसी सुरंग से दाखिल होने की संभावना से इंकार करते हुए उन्होंने कहा कि अभी तक हमें ऐसा कोई सबूत नहीं मिला है।

भी पढ़ें..IPL 2022 के लिए सज चुके हैं मैदान, जानिए कल कितने बजे से शुरू होगा टूर्नामेंट

ये भी पढ़ें..BCCI सेक्रेटरी जय शाह ने किया ऐलान, कब, कहां सजेगा आईपीएल मेगा ऑक्शन का बाजार 

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं…)

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments
Loading...
नई खबर पढ़ने के लिए अपना ईमेल रजिस्टर करे !
आप कभी भी इस सेवा को बंद कर सकते है |
busty ebony ts pounding studs asshole.anal sex

 

 

शहर  चुने 

Lucknow
अन्य शहर