ब्रेकिंग न्यूज़

 खून से लथपथ होने के बावजूद टीम को जीत दिलाने के लिए लड़ते रहे 'शेन वाटसन'

खेल कूद
Typography

स्पोर्ट्स डेस्क -- इंडियन प्रिमियम लीग आईपीएल 2019 का 12 वां सीजन खत्म हो चुका है. हैदराबाद में चेन्नई और मुंबई के बीच खेले गए फाइनल मैच में काफी ड्रामा देखने को मिला जिसमें पोलार्ड, धोनी और बुमराह शामिल थे.

स्पोर्ट्स डेस्क -- इंडियन प्रिमियम लीग आईपीएल 2019 का 12 वां सीजन खत्म हो चुका है. हैदराबाद में चेन्नई और मुंबई के बीच खेले गए फाइनल मैच में काफी ड्रामा देखने को मिला जिसमें पोलार्ड, धोनी और बुमराह शामिल थे.

रोमांच और ड्रामा से भरे इस फाइनल मुकाबले में मुंबई ने चेन्नई को मात्र 1 रन से हराकर चौथी बार खिताब पर कब्जा कर लिया. लेकिन इस बीच एक खिलाड़ी ऐसा था अपनी टीम को जीत दिलाने के लिए खून से लथपथ घुटने के साथ खेलता रहा.

भले ही हर तरफ मुंबई की जीत की चर्चाएं हो रही है लेकिन चेन्‍नई के बल्‍लेबाज़ शेन वॉटसन की दिलेरी को हर कोई सलाम कर रहा है. सच कहा जाए तो उनकी फाइनल में अपनी टीम को जीत दिलाने की ललक ने वर्ल्‍ड क्रिकेट को हैरान कर दिया है.जो अपनी टीम को जीत दिलाने के लिए खून से लथपथ घुटने के साथ खेलते रहे.

Image result for खून से लथपथ होने के बावजूद टीम को जीत दिलाने के लिए लड़ते रहे 'शेन वाटसन

दरअसल चेन्नई सुपर किंग्‍स के फाइनल मैच हारने के बाद टीम के सीनियर खिलाड़ी हरभजन सिंह ने शेन वॉटसन को लेकर बड़ा खुलासा किया है. उन्‍होंने ने अपने बयान में कहा, 'वॉटसन के घुटने में चोट लगी हुई थी. वॉटसन के घुटने से खून भी बह रहा था, लेकिन उन्‍होंने ये बात टीम के किसी खिलाड़ी को नहीं बताई और वो बल्लेबाजी करते रहे. टीम को इसके बारे में तब पता चला जब वो आउट होकर वापस आ गए.' मैच खत्म होने के बाद उनके घुटने में 6 टांके लगे. 

गौरतबल है कि आईपीएल 12 के फाइनल में वॉटसन ने 59 गेंदों पर आठ चौके और चार छक्के की मदद से 80 रनों की पारी खेली लेकिन 20वें ओवर की चौथी गेंद पर वो क्रुणाल पंड्या के हाथों रन आउट हो गए. दो रन चुराने के चक्कर में वॉटसन ने तेज दौड़ लगाई लेकिन वो क्रीज तक नहीं पहुंच सके.

BLOG COMMENTS POWERED BY DISQUS
Pin It
Sign up via our free email subscription service to receive notifications when new information is available.