ब्रेकिंग न्यूज़

राजकोट-- पूर्व केंद्रीय वित्त मंत्री और बीजेपी के वरिष्ठ नेता यशवंत सिन्हा 14 नवंबर से तीन दिन तक गुजरात दौरे पर रहेंगे। उनका यह दौरा एनजीओ "लोकशाही बचाओ अभियान" के तहत आयोजित किया जा रहा है जो कांग्रेस समर्थित एनजीओ है। इस लिहाज से उनके इस दौरे को नोटबंदी और वर्तमान आर्थिक परिदृश्य पर यशवंत सिन्हा के बीजेपी विरोधी बयान के बाद से कांग्रेस के लिए लाभदायक माना जा रहा है।

इससे पहले भी कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी. चिदंबरम भी जीएसटी पर राजकोट के व्यापारियों से बात कर चुके हैं। वहीं सिन्हा भी इस दौरे के दौरान राजकोट, अहमदाबाद और सूरत के व्यापारियों बातचीत करेंगे। एक वरिष्ठ कांग्रेस नेता ने बताया, पी चिदंबरम की तरह ही यशवंत सिन्हा का यह दौरा भी कांग्रेस के बैनर तले नहीं होगा। जब सिन्हा और चिदंबरम जैसे लोग नॉन पॉलिटिकल प्लेटफॉर्म पर बोलते हैं तो यह उनके विचारों को दर्शाता है। गौरतलब है कि 182 सदस्यीय विधानसभा के लिए गुजरात में दो चरणों में चुनाव होने हैं। 9 दिसंबर को पहले चरण की वोटिंग होनी है। 14 दिसंबर को दूसरे और अंतिम दौर की वोटिंग होगी। मतगणना 18 दिसंबर को होगी। 

पटना-- राजद के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष शिवानन्द तिवारी ने महादलित विकास मिशन में घोटाले के उजागर होने के कारण मुख्यमंत्री नीतीश पर निशाना साधा है। उन्होंने कहा कि राज्य में नए-नए घोटाले सामने आ रहे हैं। नीतीश सरकार घोटालों का एक रिकॉर्ड बना रही है। पता नहीं और कितने घोटालों का पर्दाफाश होना अभी बाकी है।

तिवारी ने मुख्यमंत्री पर तंज कसते हुए कहा कि जब भी कोई घोटाला उजागर होता है, नीतीश कुमार का एक ही बयान आता है कि जांच के आदेश दे दिए गए है। जल्द कार्रवाई होगी। उन्होंने कहा कि नीतीश कुमार का रूतबा लगभग समाप्त हो गया है। 

शिमला: हिमाचल प्रदेश चुनाव में विधानसभा चुनाव से ठीक पहले भारतीय जनता पार्टी ने आखिरकार अपने सीएम उम्मीदवार के नाम का ऐलान कर दिया है। पूर्व मुख्यमंत्री प्रेम कुमार धूमल पर एक बार फिर पार्टी ने भरोसा जताया है। बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने यह घोषणा की है। इससे पहले कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने भी वीरभद्र सिंह को अपनी पार्टी का सीएम कैंडिडेट घोषित किया था।

नई दिल्ली-- भाजपा में रहकर भी अक्सर भाजपा से जुदा राय रखने वाले शॉटगन शत्रुघ्न सिन्हा ने एक बार फिर कड़ा रुख अपनाते हुए प्रधानमंत्री मोदी पर निशाना साधा है। सिन्हा ने ट्वीट्स करके प्रधानमंत्री मोदी पर हमला बोला।उन्होंने प्रधानमंत्री मोदी द्वारा दीपावली मिलन के दौरान दिए गए उनके भाषण के एक अंश को लेकर हमला बोलते हुए कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अभी तक क्या प्रयास किए हैं यह जानने के लिए कि उनके कुछ नेताओं के विचार भिन्न क्यों हैं? उन्होंने कहा, ‘पीएम मोदी ने दिवाली मिलन में कहा था कि उनके कुछ लोगों के विचार अलग हैं। मैं विनम्रता से यह पूछना चाहता हूं कि क्या कभी किसी ने ये जानने की कोशिश की है कि ऐसा क्यों है। क्यों कुछ नेताओं के विचार अलग हैं।’

भरूच : गुजरात के चुनावी रण में तीखे वार-पलटवार का दौर जारी है। कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने बुधवार को गुजरात के भरुच में रैली कर पीएम नरेंद्र मोदी और बीजेपी सरकार को फिर निशाने पर लिया। राहुल ने वर्ल्ड बैंक की रैकिंग में भारत की स्थिति में आए उछाल पर गदगद केंद्र सरकार पर हमला बोला।

नई दिल्ली: आम आदमी पार्टी (AAP) में विधायक अमानतुल्ला की वापसी के बाद पार्टी के वरिष्ठ नेता कुमार विश्वास को पार्टी की राष्ट्रीय परिषद की बैठक में भी किनारे लगाया गया है। AAP ने राष्ट्रीय परिषद की बैठक में कुमार विश्वास का नाम शामिल नहीं किया है। बता दें कि अभी तक पार्टी की चार बैठकें हुई हैं, जिनमें विश्वास ने मंच संचालन किया था। कुमार विश्वास ने पार्टी के इन फैसले के बाद बागी तेवरों के संकेत भी दे दिए हैं।

लखनऊ-- बहुजन समाज पार्टी को एक बड़ा झटका लगा है। बसपा छोड़कर नया मोर्चा वाले नसीमुद्दीन सिद्दीकी के खिलाफ विधान परिषद में बसपा द्वारा लगाई गई याचिका खारिज कर दी गई है। नसीमुद्दीन सिद्दीकी अब एमएलसी बने रहेंगे।

बसपा ने विधान परिषद में नसीमुद्दीन सिद्दीकी को हटाए जाने की मांग की थी। लेकिन विधान परिषद के सभापति ने फैसला नसीमुद्दीन सिद्दीकी के पक्ष में सुनाया है। नसीमुद्दीन सिद्दीकी अब विधान परिषद के सदस्य बने रहेंगे। नसीमुद्दीन सिद्दीकी ने मायावती की ऑडियो क्लिप वायरल करते हुए उनपर वसूली का आरोप लागाया था।10 मई, 2017 को बसपा के कद्दावर नेता नसीमुद्दीन सिद्दीकी और उनके बेटे अफजल सिद्दीकी को मायावती ने पार्टी से बाहर का रास्ता दिखा दिया था। नसीमुद्दीन सिद्दीकी पर अनुशासनहीनता का आरोप लगाकर मायावती ने पार्टी से बाहर निकाल दिया था।

शिमला: हिमाचल प्रदेश के चुनावी समर को जीतने के लिए कांग्रेस ने बुधवार को अपना घोषणापत्र जारी कर दिया। राज्य में सत्ता बरकरार रखने के लिए पार्टी ने कई लोक लुभावन वादे किए हैं। पार्टी ने अखिलेश यादव की राह पर चलते हुए वोटरों को लुभाने के लिए एक नया दांव खेला है। पार्टी ने जहां किसानों पर डोरे डालने के लिए बिना ब्याज के कर्ज देने का वादा किया है, वहीं उसकी नजर युवा मतदाताओं पर भी है। कांग्रेस ने डेढ़ लाख युवाओं को रोजगार और मेधावी छात्र-छात्राओं को लैपटॉप देने की घोषणा की है। 

मैसूर: हाल ही में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कर्नाटक दौरे पर राज्य के कांग्रेस शासन पर सवाल उठाये थे। अब इसके जवाब में मुख्यमंत्री सिद्धारमैया ने सोमवार को कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने कर्नाटक दौरे के दौरान उन पर प्रहार इसलिए किया क्योंकि उनकी लोकप्रियता राज्य में बढ़ी है।