ब्रेकिंग न्यूज़

कैराना से सपा विधायक का तालिबानी फरमान,देखिए वीडियों....

राजनीति
Typography

शामली -- अपनी दबंगई के चलते सुर्खियों में रहने वाले कैराना से समाजवादी पार्टी के विधायक नाहिद हसन एक बार फिर सुर्खियों में है। इस बार उनका एक वीडियो सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है जिसमें वह तालिबानी फरमान सुनाते हुए नजर आ रहे हैं।

शामली -- अपनी दबंगई के चलते सुर्खियों में रहने वाले कैराना से समाजवादी पार्टी के विधायक नाहिद हसन एक बार फिर सुर्खियों में है। इस बार उनका एक वीडियो सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है जिसमें वह तालिबानी फरमान सुनाते हुए नजर आ रहे हैं।

नाहिद हसन वायरल वीडियो में यह कहते हुए दिखाई दे रहे हैं कि बाजार में भाजपा के जो भी लोग हैं उन से सामान न खरीदें और अगर आप सामान नई खरीदोगे तो 15 दिन में उनको पता चल जाएगा।

आपको बता दें कि पूरा मामला जनपद शामली का है जहां पर कैराना से समाजवादी पार्टी के विधायक और पूर्व सांसद स्वर्गीय मनोहर हसन के बेटे नाहिद हसन का।जिनका एक वीडियो इन दिनों सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है जिसमें वह एक भूमि पर खड़े होकर तालिबानी फरमान सुनाते हुए नजर आ रहे हैं ।वीडियो में नए दर्शन द्वारा वहां पर मौजूद लोगों को जो फरमान सुनाया जा रहा है उससे उनकी जो कट्टरवादी मानसिकता है वह साफ झलक रही है।

वीडियो में नाहिद हसन ने कहा है कि कुछ भाजपा के लोगो ने और भाजपा दिमाग वाले अधिकारियों ने सराय की भूमि पर मौजूद लोगों को यहां से उजाड़ दिया है। उन उजड़े हुए लोगों के लिए मेरी आप सभी से अपील है कि बीजेपी के लोगों से सामान लेना बंद कर दो इनकी तबियत में सुधार आ जायेगा। इन्हें पता चल जाएगा कि जब हैम इनसे समान लेते है तभी इंक यवहार चलता है और इनके घर चलने की वजह से आज हम सब पर या जूता बजाया जा रहा है। हमारे जो लोग है थोड़े दिन यहाँ से सामान लेने बंद कर दो। बताया जा रहा है कि यह वीडियो खुद नाहिद हसन नहीं तैयार करवाया है और उसको बनवाकर सोशल मीडिया पर वायरल करा दिया। 

ये है मामला...

दरअसल कैराना कस्बे के बाजार में सड़क पर लगी ठेली से अतिक्रमण की स्थिति पैदा हो रही थी और लोग वह बाजार के दुकानदार आए दिन अतिक्रमण की शिकायत एसडीएम कैराना को कर रहे थे। जिसके बाद एसडीएम कैराना ने शहर में ठेली वालों द्वारा किए जा रहे अतिक्रमण का विकल्प तलाश  किया था और नगर पालिका के पीछे कुछ सराय में नगर पालिका की भूमि पड़ी हुई थी जहां पर कि कुछ लोगों ने अवैध कब्जा किया हुआ था जिस जमीन को एसडीएम कैराना ने आदेश देकर खाली कराने के लिए कहा था। एसडीएम के आदेश पर नगर पालिका ने उक्त भूमि को कब्जा मुक्त करा लिया और वहां पर अवैध तरीके से निर्माण किए गए भवनों को गिरा दिया। 

जिसके बाद वहां पर रहने वाले लोग कैराना से समाजवादी पार्टी के विधायक नाहिद हसन के घर पहुंचे और उन्होंने उनको सारी बात बताई। जिसके बाद आज नाहिद हसन सराय की भूमि पर पहुंचे और सराय की भूमि पर खड़े होकर कहा कि मेरे वालिद साहब ने यह जमीन इन लोगों को दी थी और कुछ भाजपा दिमाग के अधिकारियों ने इस भूमि को खाली करा दिया और यहां पर रहने वाले लोगों को बेघर कर दिया यहां पर फल वालों की ठेली लगवाई जाएगी इतने अंदर यहां पर कौन फल लेने आएगा और यह बात कहते हुए तालिबानी फरमान सुना डाला कि भाजपा के लोगों से सामान नहीं खरीदना है।

इससे पहले भी दे चुके है कई कांड 

गौरतलब है कि कैराना से समाजवादी पार्टी के विधायक नए दर्शन का यह कोई पहला मामला नहीं है जिसको लेकर वह सुर्खियों में आए हो इससे पहले भी वह कई बार सुर्खियों में रह चुके हैं। ताजा मामला अभी करीब 15 दिन पहले का है जब कुछ कार सवार बदमाशों ने बिजली विभाग के एसडीओ पर जानलेवा हमला किया था और उन्हें मारपीट कर घायल कर दिया था जिसके बाद एसडीओ ने पुलिस में तहरीर देकर नाहिद हसन पर आरोप लगाए थे कि उन्होंने ही उनके साथ मारपीट कर आई है क्योंकि एक कनेक्शन के मामले में ना ही दर्शन से उनकी कहासुनी हो गई थी।

फिलहाल इस पूरे मामले की अभी जांच चल रही है तो वहीं इससे पहले करीब 5 साल पहले भी नाइस हसन ने एक लेखपाल के साथ गाली गलौज व अभद्रता करते हुए मारपीट की थी जिसका भी वीडियो खूब वायरल हुआ था और पहले भी उस वीडियो को लेकर ना ही दर्शन सुर्खियों में आए थे लेकिन इस बार जिस मामले को लेकर नाहिद हसन सुर्खियों में आए हैं उस वीडियो में नाहिद हसन द्वारा बोले गए एक एक शब्द से कट्टरता झलकती है।

 

Pin It