ब्रेकिंग न्यूज़

बजट का पहला साइड इफेक्ट,2.5 रुपए महंगा हुआ पेट्रोल व डीजल,इन वस्तुओं के भी बढ़े दाम

देश
Typography

न्यूज डेस्क -- मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल का बजट शुक्रवार को वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने पेश किया।कल पेश हुए पहले बजट का आज साइड इफेक्ट दिखने लगा।

न्यूज डेस्क -- मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल का बजट शुक्रवार को वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने पेश किया।कल पेश हुए पहले बजट का आज साइड इफेक्ट दिखने लगा।

दरअसल बजट में सरकार द्वारा पेट्रोल और डीजल पर दो-दो रुपए शुल्क बढ़ाने से शनिवार को इनकी कीमत करीब ढाई रुपए बढ़ गई। राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में पेट्रोल 2.45 रुपए बढ़कर 72.96 रुपए प्रति लीटर पर पहुंच गया। यह आठ मई के बाद का इसका उच्चतम स्तर है।इसके अलावा सोना बेशकीमती धातु पर सीमा शुल्क में 2.5 फीसदी की बढ़ोतरी की है।

देश की सबसे बड़ी तेल विपणन कंपनी इंडियन ऑयल कॉरर्पोरेशन से मिली जानकारी के अनुसार दिल्ली में डीजल भी 2.36 रुपए महंगा होकर 66.69 रुपए प्रति लीटर हो गया है। सरकार ने पेट्रोल-डीजल पर विशेष अतिरिक्त उत्पाद शुल्क एक-एक रुपए और सड़क एवं ढांचागत उपकर एक-एक रुपए बढ़ाया है।

देश के अन्य हिस्सों में भी दोनों ईधनों के दाम बढ़े हैं। कोलकाता में पेट्रोल दो रुपए 40 पैसे महंगा होकर 75.15 रुपए प्रति लीटर और डीजल 2.36 रुपए बढ़कर 68.59 रुपए प्रतिलीटर हो गया है। मुम्बई और चेन्नई में पेट्रोल के दाम क्रमश: 2.42 रुपए और 2.57 रुपए बढ़े। मुम्बई में आज पेट्रोल की कीमत 78.57 रुपए और चेन्नई में 75.76 रुपए रही। डीजल की कीमत मुम्बई में ढाई रुपए बढ़कर 69.90 रुपए और चेन्नई में 2.52 रुपए बढ़कर 70.48 रुपए प्रति लीटर पर पहुंच गई।

बेसकीमती धातु, सोना, काजू और एसी भी होंगे महंगे

वित्त मंत्री ने अपने बजट भाषण में सोना बेशकीमती धातु पर सीमा शुल्क में 2.5 फीसदी की बढ़ोतरी की है। इस बढ़ोतरी के बाद अब इन वस्तुओं पर सीमा शुल्क बढ़कर 12.5 फीसदी हो गया है। आयातित काजू या काजू गिरी, रसायन, प्लास्टिक और रबर पर सीमा शुल्क को बढ़ाकर 70 फीसदी किया गया है। आयातित प्लास्टिक फ्लोर कवर, प्लास्टिक की वॉल या सीलिंग कवर पर सीमा शुल्क को 10 फीसदी से बढ़ाकर 15 फीसदी किया गया है।

प्लास्टिक की सभी आयातित वस्तुओं पर सीमा शुल्क 10 से बढ़ाकर 15 फीसदी किया गया है। घरेलू प्रकाशकों को बढ़ावा देने के लिए आयातित किताबों पर 5 फीसदी का सीमा शुल्क लगाया गया है। स्प्लिट एसी पर आयात शुल्क बढ़ाकर 10 से 20 फीसदी किया गया है। इसके अलावा, सीसीटीवी कैमरा, वीडियो कैमरा, लाउड स्पीकर, ऑप्टिकल फाइबर केबल, चुनिंदा ऑटो पार्ट, टाइल, मेटल फिटिंग, चुनिंदा सिंथेटिक रबर पर सीमा शुल्क में बढ़ोतरी की गई है।

Pin It