ब्रेकिंग न्यूज़

पर्यावरण प्रेमी की अनोखी मुहिम लाई रंग, पक्षियों के लिए खेतों में अनाज की जगह उगाया जंगल

खास चेहरा
Typography

बाराबंकी --  यूपी के बाराबंकी जिले में एक पर्यावरण प्रेमी मोहम्मद आदिल की अनोखी मुहिम देखने को मिली।जिन्होंने खेतों में अनाज न पैदा करके उन्होंने खेतों में कटीले पेड़ लगा दिए जिससे गांव में 25 साल बाद बिलुप्त होती।

बाराबंकी --  यूपी के बाराबंकी जिले में एक पर्यावरण प्रेमी मोहम्मद आदिल की अनोखी मुहिम देखने को मिली।जिन्होंने खेतों में अनाज न पैदा करके उन्होंने खेतों में कटीले पेड़ लगा दिए जिससे गांव में 25 साल बाद बिलुप्त होती।

बया चिड़ियों ने अपने बनाये हैं खूबसूरत घोसले ये घोषले नगर पंचायत बंकी क्षेत्र के सहेलियां गाँव मे हैं जहां लोगों का इन घोसलों को देखने के लिए लोग एकत्रित होते है।

दरअसल आजकल लोग पेड़ पौधों को काटकर बडी बडी इमारते और बिल्डिंग तैयार करने में लगे जिससे लगातार हमारे और आपके आसपास की जंगल और झाड़ियों का अस्तित्व खत्म होता जा रहा।इन जंगल और झाड़ियों के खत्म होने से चिड़िया भी लगातार गायब होती जा रही हैं । कुछ ऐसी चिड़िया हैं जो बिलुप्त हो चुकी हैं जिसमे से एक बया चिड़िया भी हैं ।

कटीले जंगलों में रहने वाली बया पक्षियों के अचानक गायब होने से गांव से चिड़ियों की चहचहाहट भी गायब हो गयी लेकिन गांव में अचानक इन पक्षियों की वापिसी से एक बार फिर झाड़ियों में चिड़ियों की चौचहाहट सुनाई देती हैं । ये पक्षियां मानसून पता लगाने में बड़ी भूमिका निभाती हैं और फिर ये अपने घोसले बनाती हैं।

अपने साथी को खुश करने के लिए बनाती है घोसला

आपको बता दें कि बया चिड़िया खासकर खुद और परिवार की सुरक्षा को देखते हुए कटीले पेड़ों की डालियों में ही अपने घोसले बनाती हैं जिससे कोई भी उनके घोसले तक आसानी से न पहुच सके।ये घोसले खासकर नर पक्षियों द्वारा अपनी मादा पक्षियों को खुश करने के लिए खूबसूरत घोसले बनाये जाते है। नर पक्षी कड़ी मेहनत से घोंसलों के लिए अपने चोचो के सहारे एक एक तिनका वो खुद काटकर लाता हैं और अगर मादा को फिर भी ये घोसले पसंद न आये तो वो फिर दूसरे घोसले बनाती उसके बाद प्रजनन की प्रक्रिया शुरू होती हैं ।

यहीं नहीं बया चिड़िया पहले से पता कर लेती हैं मानसून किस दिशा से आने वाला हैं उसके बाद ही ये अपने घोषलो इंट्री गेट बनाती हैं इन्हें इंजीनियर पक्षी भी लोग कहते है ।

(रिपोर्ट-सतीश कश्यप,बाराबंकी)

Pin It