ब्रेकिंग न्यूज़

किसान के बेटे ने PCS परीक्षा में टॉप कर किया जिले का नाम रोशन,बने SDM

खास चेहरा
Typography

प्रतापगढ़ -- विशुद्ध ग्रामीण परिवेश में किसान के घर जन्म लेने वाले विनोद पांडे उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग की परीक्ष में टॉपरों में की सूची में दूसरे स्थान पर रहे बचपन मे सीधे सादे स्वभाव के थे...

प्रतापगढ़ -- विशुद्ध ग्रामीण परिवेश में किसान के घर जन्म लेने वाले विनोद पांडे उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग की परीक्ष में टॉपरों में की सूची में दूसरे स्थान पर रहे बचपन मे सीधे सादे स्वभाव के थे...

गांव के प्राइमरी स्कूल से शिक्षा की शुरुआत हुई इंटर की शिक्षा भी ग्रामीण परिवेश में पहाड़पुर से पूरी कर इलाहाबाद में पढ़ाई कर रहे थे तभी पॉलिटेक्निक में नाम आने के बाद पॉलिटेक्निक की पढ़ाई के दौरान एयरफोर्स में चयन हुआ। लेकिन पढ़ाई जारी रही एलएलबी और एलएलएम की पढ़ाई करने के बाद पीएसजे में चयन हुआ लेकिन महत्वाकांछा कम नही हुई और कम्पीटिशन जारी रहा और अंततः पीसीएस टॉप करने वालो की सूची में दूसरा स्थान हासिल कर एसडीएम बन गए।

बता दें कि विनोद के पिता सूर्य प्रसाद पाण्डेय किसान है। जिनके ऊपर जिम्मेदारी अधिक थी दो बहनों के बीच मे विनोद पाण्डेय थे कमाई की अपेक्षा खर्च अधिक था जिसके चलते विनोद की शिक्षा प्राइमरी पाठशाला से शुरू होकर इंटर मीडिएट तक लालगंज में हुई। इसके पश्चात जॉब में आ जाने की वजह से ग्रेजुएशन की पढ़ाई राजस्थान के अजमेर से हुई। ग्रेजुएशन की शिक्षा पूर्ण होते ही सन 1997 में विनोद का चयन एयर फोर्स में हो गया इसके पश्चात 2016 तक विनोद ने नौकरी करते हुए लगातार अध्ययन करते रहे। जिसके फलस्वरूप 2017 में मनोरंजन कर निरीक्षक के पद पर चयन हो गया। 

इसके पश्चात 2018 में न्यायिक मजिस्ट्रेट के पद पर चयन हुआ और कौशाम्बी जनपद में तैनाती मिली। विनोद पाण्डेय की पत्नी रेखा पाण्डेय लगातार एसडीएम बनने में पति का सहयोग करती रही। आज रेखा पाण्डेय व विनोद पाण्डेय की दो बेटियां है।

बड़ी बेटी तान्या पाण्डेय इंटरमीडिएट में और अनन्या पाण्डेय सेवेन्थ में दोनों बेटियां भी अपने पापा से बढ़कर प्रतापगढ़ का नाम रोशन करने के लिए दिन रात मेहनत कर रही है।रेखा पाण्डेय पीजी कर अपनी बेटियों को लगातार प्रेरित कर रही है कि अपने पापा की तरह उनकी दोनों बेटियां नाम रोशन करे।विनोद पाण्डेय अपनी सफलता का श्रेय अपनी पत्नी रेखा पाण्डेय व अपनी दोनों बेटियों के साथ परिवार व माता पिता को दिया है।

(रिपोर्ट-मनोज त्रिपाठी,प्रतापगढ़)

Pin It