22 वर्षीय युवती को बंधक बना 8 महीने रेप, 3 पुलिसकर्मी समेत 7 लोग पर मुकदमा…

शिरोमणि अकाली दल के नेता, एक तथाकथित बाबा और कुछ महिलाओं सहित 20 से 25 लोग थे मौजूद...

0 607

शहर में एक बार फिर इंसानियत शर्मसार हुई है। 22 वर्षीय युवती को 8 महीने तक बंधक बनाकर बलात्कार (रेप) क‍िया गया। पुलिस द्वारा पीड़िता के बयान के आधार पर दो महिलाओं सहित सात लोगों पर किया मामला दर्ज क‍िया गया।

इन 7 लोगों में एक शिरोमणि अकाली दल का नेता है। वहीं पुलिस द्वारा पीड़िता को डराने धमकाने के आरोप में तीन थानेदारों को सस्पेंड कर द‍िया गया।

ये भी पढ़ें..प्रदेश में यौन क्षमता बढ़ाने के लिए गधों को मारकर खा रहे हैं लोग..

सभी आरोपियों पर हुई कड़ी कार्यवाई

पुलिस द्वारा पीड़िता का मेडिकल टेस्ट कराया गया और मजिस्ट्रेट द्वारा पीड़िता के बयान दर्ज क‍िए गए। पीड़िता एवं उनके परिजनों ने सभी आरोपियों एवं धमकी देने वाले पुलिस अधिकारियों पर सख्त कार्यवाही की मांग की। वहीं पीड़िता एवं उसके परिजनों ने खुद की जान को खतरा बताते हुए पुलिस सुरक्षा मांगी।

ये है पूरा मामला…

इस मामले की जानकारी देते हुए पीड़‍िता के भाई ने बताया कि बीते साल 24 जून 2020 को उनके घर किराए पर रहने वाली एक महिला उनकी बहन को बहला-फुसलाकर अकाली दल के नेता के भाई के घर ले गई जहां पर पहले से शिरोमणि अकाली दल का नेता, एक तथाकथित बाबा और कुछ महिलाओं सहित 20 से 25 लोग मौजूद थे।

वहां पर उसे पीने के लिए कोल्ड ड्रिंक दिया गया जिसे पीने के बाद उनकी बहन को होश नहीं रहा। उसी दिन उनकी बहन के साथ शिरोमणि अकाली दल के नेता, तथाकथित बाबा एवं अन्य व्यक्तियों द्वारा बलात्कार किया गया।

जबरदस्ती करवाई शादी

भाई ने बताया क‍ि उनकी बहन को 17 दिन बरनाला जिले के गांव पंधेर में रखा गया और उसके बाद जिला संगरूर के एक गांव में 3 दिन रखा गया। उसके बाद उनकी बहन को बठिंडा लेकर जाया गया जहां पर उसकी जबरदस्ती शादी करवा दी गई और 70 हजार रुपये शादी की एवज में आरोपियों ने लिए थे।

Related News
1 of 1,358

उन्होंने बताया कि जब उन्होंने इस संबंधी (रेप) शिकायत बरनाला में दर्ज करवाई तो थानेदार द्वारा उसे पैसों की मांग की गई जिसके बाद उन्होंने एसएसपी बरनाला से मिलने की कोशिश की लेकिन उन्हें मिलने नहीं दिया गया। इसके बाद उनका केस किसी अन्य थानेदार को दे दिया गया।

तीन थानेदारों ने दी धमकी…

बरनाला पुलिस के तीन थानेदारों द्वारा उनकी बहन को आरोपियों के हक में बयान देने के लिए डराया धमकाया गया, जब उनकी बहन को बठिंडा में रखा हुआ था तो उसे 3 लाख रुपये में बेचने की बातचीत चल रही थी जिसको उनकी बहन ने सुन लिया और वह किसी तरह वहां से निकल कर भाग आई और अपनी मां को संपर्क किया।

नशे की हालत में मिली बहन

भाई ने बताया कि जब वह अपनी बहन को लेने गए तो वह नशे की हालत में थी और उसके बाद उन्होंने अपनी बहन को सरकारी अस्पताल बरनाला में दाखिल करवाया। उन्होंने इस पूरे मामले में शिरोमणि अकाली दल के नेता, तथाकथित बाबा एवं बरनाला पुलिस के तीन थानेदारों के खिलाफ सख्त कानूनी कार्यवाही की मांग की है।

वहीं, लड़की (रेप पीडिता) ने कहा कि आरोपियों द्वारा उसे लगातार तंग परेशान किया जा रहा था और उसे धमकियां दी जा रही थीं। पीड़िता ने अपनी और अपने परिवार की सुरक्षा की मांग करते हुए कहा कि उन्हें आरोपियों से जान का खतरा है।

ये भी पढ़ें..अभिनेत्री यामी गौतम बनी IPS अफसर ! शेयर की तस्वीरें…

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं…)

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments
Loading...
नई खबर पढ़ने के लिए अपना ईमेल रजिस्टर करे !
आप कभी भी इस सेवा को बंद कर सकते है |

 

 

शहर  चुने 

Lucknow
अन्य शहर